केंद्रीय विद्यालय संगठन में शिक्षक बनने हेतु प्रयासरत
February 11th, 2020 | Post by :- | 60 Views

1. PGT – B.Ed, मास्टर डिग्री 50% के साथ.
Ctet की आवश्यकता नहीं…

2. TGT – ग्रेजुएशन 50% के साथ..(सब्जेक्ट में भी और टोटल भी)और B.Ed.. CTET पेपर 2 क्वालिफाई..

3. PRT – 12th,D.El.Ed. या B.Ed.. और CTET पेपर 1 क्वालिफाई..

B.Ed वाले साथी PRT के लिए भी योग्य हैं.. उनको Ctet पेपर 1 क्वालिफाई करना होगा..
#केंद्रीय विद्यालय में सब्जेक्ट कॉम्बिनेशन अनिवार्य है..

इसलिए..  # TGT अंग्रेजी, हिंदी एवं संस्कृत हेतु – ये विषय ग्रेजुएशन में तीनों साल होने चाहिए.. 50% अंकों के साथ.. और.. टोटल ग्रेजुएशन में भी 50% होने चाहिए..

#TGT SST – भूगोल, राजनीतिक विज्ञान, इतिहास एवं अर्थशास्त्र में से कोई से भी दो विषय आपके ग्रेजुएशन में होने चाहिए..
जिनमें से एक इतिहास या भूगोल हो..
और ये विषय भी तीनों साल हों..
50% सब्जेक्ट में भी हों और ग्रेजुएशन में भी..
.
#TGT Science – Zoology, Botany और Chemistry तीनों साल होने चाहिए.. 50% के साथ.. ऑनर्स हो तो कोई दो..
.
#BA गणित वाले साथी योग्य नहीं होंगे..

#Age – PRT – 30. TGT – 35. PGT. – 40. महिला उम्मीदवार चाहे किसी भी कैटेगरी की हों…
सभी पोस्ट पर 10 साल की छूट..
#तैयारी – अभी Vacancy की कोई आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है.. सिर्फ कयास लगाए जा रहे हैं..

आने को तो कल ही आ जाए नोटिफिकेशन.. इसलिए #अनुमान लगाना तर्कसंगत नहीं है.. इसलिए तैयारी में जुटे रहें कि कभी भी वैकेंसी आ सकती है.. सही दिशा में और समय से पूर्व की गई तैयारी ही #फलीभूत होती है.. ये पढ़े..

1. करेंट अफेयर्स और GK
2. रीजनिंग और गणित.
3. हिंदी.
4. अंग्रेज़ी.
5. शिक्षण शास्त्र.

इन सभी सब्जेक्ट में अच्छी कमांड कर लेवें.. अगर इनमें Weakness हैं जो इम्प्रुव कर लें.. पढ़ना शुरु कर दीजिए.. और हम ये सोचे की मुझे किसी सब्जेक्ट में दिक्कत है या कमांड नहीं है तो किसी जॉब के लिए सोचना तर्कसंगत नहीं है..

इसलिए अच्छे से पढ़े..
और एक बार पिछले सालों में हुए #पेपर्स को भी गौर से पढ़ें..
करेंट अफेयर्स के लिए कोई Monthly बुक ले..

#NCERT भी पढ़े..
हिंदी, अंग्रेजी, रीजनिंग, गणित और शिक्षण शास्त्र के लिए कोई भी बुक ले..

लेकिन #तन्मयता से पढ़ना ही महत्वपूर्ण है..
Psychology के लिए Ncert की मनोविज्ञान की पुस्तक है.. हम उसे भी पढ़ सकते हैं..
#नोट – विवरण सिर्फ #अनुभव व जानकारियों पर आधारित है.. नये नोटिफिकेशन के बाद शायद कुछ परिवर्तन हो जाए… कहीं त्रुटि हो तो #मार्गदर्शन करें..

हमेशा #जागरूक रहें..
जिनको बेहतर जानकारी हों… उनसे भी जरूर पूछें..