हत्या के मामले का खुलासा पिता-पुत्र गिरफ्तार
October 4th, 2019 | Post by :- | 34 Views

रतलाम(सुखवीर सिंह)जावरा:- जिले के जावरा में 15 दिन पूर्व घर में मिले पति-पत्नी के शव का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने दंपति की हत्या के आरोप में एक पिता- पुत्र को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने दंपत्ति की झोपड़ी के किराए के पैसे को लेकर हुए विवाद में ईंट से वार कर और गला घोटकर उनकी हत्या की थी।वहीं महिला के साथ एक आरोपी ने दुष्कर्म भी किया था।
शुक्रवार को एसपी गौरव तिवारी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 21 सितम्बर 2019 को थाना जावरा शहर में सूचना प्राप्त हुई कि ताल नाका क्षेत्र निवासी रतनलाल एवं उसकी पत्नी रामीबाई की अज्ञात व्यक्ति हत्या कर कमरे की कुन्दी लगाकर भाग गये है । घर में दोनों की लाशे पड़ी होने से बदबू आ रही है । सूचना पर एसपी गौरव तिवारी के निर्देश पर तत्काल जावरा शहर थाना प्रभारी बल के साथ मौके पर पहुँचे और जांच शुरू की । रतलाम से एफ.एस.एल.टीम को भी मौके पर बुलाया गया । घटना सम्भवतया दो दिन पुरानी थी। पति – पत्नि की दोहरी हत्या जघन्य एवं गम्भीर प्रकृति का अपराध था और दोनों के शवों में डिकम्पोज होकर कीडे पड गये थे । इस मामले में पुलिस ने धारा 302 के तहत अज्ञात आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू की।
एसपी ने निरीक्षण कर टीम गठित की
पति पत्नी की हत्या के इस गंभीर मामले में एसपी गौरव तिवारी ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया और मामले के खुलासे और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए आवश्यक निर्देश देते हुए एक टीम का गठन किया। टीम द्वारा घटना स्थल से आरोपियों की शिनाख्त हेतु आवश्यक साक्ष्य एकत्रित किये गये एवं मृतकों से सम्बंधित रिश्तेदार, आसपास के लोगों व मिलने जुलने वालो से पूंछताछ की गई। सायबर सेल,सी.सी.टी.वी. व अन्य वैज्ञानिक तरीके से अज्ञात आराेपिंयों की तलाश की गई।
एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि एकत्रित साक्ष्यों के आधार पर जानकारी प्राप्त हुई कि दिनांक 18 सितम्बर को रात्री में मृतक के घर के आसपास दो व्यक्तियों को देखा गया था, जो घटना दिनांक के बाद से मृतक के घर के आस- पास व जावरा में नहीं दिखे । इस सूचना को सायबर सेल व वैज्ञानिक साक्ष्यों की मदद से संदेही आरोपियों की घटना वक्त घटना स्थल पर उपस्थिति की पुष्टी हुई । तुरन्त ही संदेहियों की तलाश की एवं खाचरोद नाका के पास झोंपडी से पुलिस अभिरक्षा में लिया गया । दोनो संदेही आरेपीगण पिता शम्भुलाल व उसके बेटे कालू उर्फ गौरीशंकर से पूछताछ में उन्होंने दोहरी हत्या का जुर्म स्वीकार किया ।