चाकूबाजी से बवाल, पथराव व आगजनी, एसपी-एसडीएम-दारोगा घायल।
January 12th, 2018 | Post by :- | 10 Views
QR:  चाकूबाजी से बवाल, पथराव व आगजनी, एसपी-एसडीएम-दारोगा घायल।

इलाहाबाद, लाेकहित एक्सप्रैस, ( विपिन यादव ) ।

इलाहाबाद यमुनापार के करमा बाजार में पुआल चोरी मामले में चाकूबाजी के बाद शुक्रवार को बवाल हो गया। सड़क जाम, आगजनी, पथराव, हवाई फायङ्क्षरग से हालात बिगड़ गए। ङ्क्षहसक टकराव में पुलिस व प्रशासनिक अफसर संग सिपाही व कई ग्रामीण घायल हो गए। एसएसपी आकाश कुलहरि समेत पीएसी और आरएएफ ने पहुंचकर स्थिति संभाली। सुबह आठ बजे शुरू हुआ बवाल शाम चार बजे थमा। तनाव को देखते हुए करमा बाजार को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।
विवाद की शुरुआत गुरुवार को हुई। करमा बाजार निवासी 22 वर्षीय धर्मेंद्र पटेल और वसीम का घर पड़ोस में है। गुरुवार शाम धर्मेंद्र के घर के पास रखे पुआल को वसीम चोरी कर ले जा रहा था। धर्मेंद्र ने रोका तो मारपीट हो गई। उस समय पुलिस के पहुंचने पर समझौता हो गया। शुक्रवार सुबह आठ बजे धर्मेंद्र चाय की दुकान पर था तभी वसीम का भाई नदीम पांच साथियों के साथ पहुंचा। धर्मेंद्र को चाकू मारकर सभी भाग निकले। इसके बाद दोनों पक्ष आमने सामने आ गए। दर्जनों लोग वसीम के घर चढ़ गाली गलौज करने लगे। इस पर गांव के लोग लाठी डंडा, चाकू लेकर निकल पड़े और धर्मेंद्र पक्ष के लोगों को खदेड़ लिया। इसके बाद बवाल शुरू हो गया। धर्मेंद्र पक्ष से भारी संख्या में लोग जमा हो गए और गौहनिया-करछना मार्ग जाम कर हंगामा करने लगे।
करमा पुलिस चौकी इंचार्ज अमरनाथ यादव दो सिपाहियों के साथ पहुंचे तो भीड़ ने खदेड़ लिया। घूरपुर एसओ के पहुंचने पर विवाद और बढ़ गया। एसपी यमुनापार दीपेंद्र चौधरी, एसडीएम, सीओ करछना कई थानों की फोर्स और पीएसी के साथ पहुंच गए। तीन घंटे बाद 11 बजे जाम खुला तो उसी बीच खीरी से पहुंची भीड़ ने बवाल बढ़ा दिया। पुलिस पर पथराव कर गुमटी फूंक दी। फिर अप्पे समेत कई गाडिय़ों में तोडफ़ोड़ होने लगी। पुलिस ने हवाई फायङ्क्षरग शुरू कर दी। भगदड़ मची तो पुलिस ने लाठी चला दी। इस बीच भीड़ के पथराव में एसपी यमुनापार, एसडीएम करछना, सीओ, दो दारोगा, चार सिपाही, अर्दली, पीएसी के तीन जवानों सहित एक दर्जन ग्रामीण जख्मी हो गए। चाकू मारने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि बवाल, पथराव करने में महान सिंह समेत दो की गिरफ्तार हुई है।