पी.जी.टी, मौलिक स्कूल एवं हाई स्कूल के मुख्याध्यापकों के स्थानांतरण आदेश जारी
August 2nd, 2017 | Post by :- | 15452 Views
QR:  पी.जी.टी, मौलिक स्कूल एवं हाई स्कूल के मुख्याध्यापकों के स्थानांतरण आदेश जारी

जींद, लोकहित एक्सप्रैस,( अनिल सैनी) । हरियाणा स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा अध्यापक स्थानांतरण नीति- 2016 के तहत पी.जी.टी, मौलिक स्कूल एवं हाई स्कूल के मुख्याध्यापकों के स्थानांतरण से संबंधित ऑनलाइन मांगे गए आवेदनों की प्रक्रिया पूरी हो गई है और आज रात या कल तक इन सभी आवेदकों के स्थानांतरण आदेश जारी कर दिए जाएंगे।
इस बारे में जानकारी देते हुए स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पी.के दास ने बताया कि पी.जी.टी, मौलिक स्कूल एवं हाई स्कूल के मुख्याध्यापकों के स्थानांतरण के लिए गत 12 जुलाई 2017 को प्रक्रिया शुरू की गई थी। इस प्रक्रिया के तहत 6743 अध्यापकों का स्थानांतरण किया जा रहा है जिनमें 4262 पी.जी.टी (रिक्त पद-9846), 257 हाई स्कूल के मुख्याध्यापक(रिक्त पद-701) व 2224 मौलिक स्कूल के मुख्याध्यापक(रिक्त पद-2562) हैं। उन्होंने बताया कि उक्त पदों के रिक्त पद 16559 हैं। 5 हाई स्कूल के मुख्याध्यापक, 41 मौलिक स्कूल के मुख्याध्यापक व 54 पी.जी.टी ने स्थानांतरण के लिए अपनी प्राथमिकता नहीं भरी जिसके कारण इनको पूरे हरियाणा में कहीं पर भी स्टेशन दिए जा सकते है।

एक अन्य प्रश्र के उत्तर में उन्होंने बताया कि अध्यापकों के स्थानांतरण के दूसरे चरण में वरिष्ठ माध्यमिक स्कूलों के प्रिंसिपलों, टी.जी.टी, सीएंडवी अध्यापकों का स्थानांतरण किया जाएगा जो कि उक्त प्रक्रिया के पूरा होने के 2 दिन में शुरू कर दिया जाएगा। इन स्थानांतरण में भी करीब दो सप्ताह का वक्त लगेगा।
उन्होंने अध्यापक स्थानांतरण नीति- 2016 के तहत हो रहे अध्यापकों की संतुष्टि बारे पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि पिछली बार हुए अध्यापकों के स्थानांतरण से करीब 90 प्रतिशत अध्यापक खुश थे। इस बार अध्यापक स्थानांतरण नीति- 2016 में और भी सुधार किया गया है जिससे लगता हैं कि इन स्थानांतरणों से और ज्यादा अध्यापक खुश होंगे।
इस अवसर पर माध्यमिक स्कूल शिक्षा विभाग के निदेशक श्री राजीव रतन, मौलिक स्कूल शिक्षा विभाग की निदेशक श्रीमती गरिमा मित्तल, माध्यमिक स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त निदेशक,प्रशासनिक श्री विरेंद्र सिंह सहरावत, मौलिक स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त निदेशक,प्रशासनिक श्री विरेंद्र सिंह दहिया भी उपस्थित थे।