कार में लिफ्ट देकर, लूटपाट, व हत्या के मामले में पुलिस को मिली कामयाबी |
January 10th, 2019 | Post by :- | 7 Views

मुकेश कुमार(हसनपुर):- लगभग 12 दिन पूर्व पलवल कैंप थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक व्यक्ति को कार में बैठाकर की गई लूटपाट के मामले की गुत्थी को अपराध जांच शाखा पुलिस ने सुलझा दिया है। पुलिस ने मुखबिर खास की सूचना पर एक आरोपी को गिरफ्तार किया और उसके कब्जे से एक हजार रुपये की नकदी को बरामद किया गया। पुलिस ने आरोपी को अदालत पेश कर तीन दिन के लिए रिमांड पर लिया। तीन दिन की पुलिस रिमांड अवधि समाप्त होने के बाद गुरुवार को पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश कर न्यायकि हिरासत में भेज दिया। पलवल कैंप थाना पुलिस को जिला अलीगढ़ (यूपी) के गांव राजगढ़ी निवासी भानू प्रकाश ने शिकायत दर्ज कराई थी कि वह गुरुग्राम स्थित निजी कंपनी में काम करता है। गत 29 दिसंबर को भानू कंपनी से अपने घर जा रहा था और पलवल के आगरा चौक पर सवारी का इंतजार कर रहा था। उसी दौरान एक व्यक्ति उसके पास आकर खड़ा हो गया और पूछा कि कहां जाना है। भानू ने बताया कि वह अलीगढ़ की तरफ जाएगा तो उक्त व्यक्ति ने कहा कि उसे भी वहां पर जाना है और वह भी सवारी का इंतजार कर रहा है। उसके थोड़ी देर बाद एक कार आई जिसमें दो युवक सवार थे और अलीगढ़ चलने की बात कही। जिस पर झांसा देकर उक्त तीनों लोगों ने भानू को कार में बैठा लिया और थोड़ा आगे जाकर भानू से नगद 970 रुपये व एटीएम कार्ड लूट लिया। लूटेरों ने पीडि़त के एटीएम कार्ड का पिन कोड़ पूछ लिया और उसे कार से उताकर फरार हो गए। लूटेरों ने पीडि़त के एटीएम से 70 हजार रुपये नकदी निकाल ली। पुलिस ने पीडि़त की शिकायत के आधार पर अज्ञात लूटेरों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मामले की जांच सीआईए इंचार्ज सुरेश भड़ाना को दी गई। इंचार्ज सुरेश भड़ाना ने अपने नेतृत्व में टीम गठित की और गहनता से जांच शुरू कर दी। जांच अधिकारी शहीद अहमद ने बताया कि जांच के दौरान टीम को छह जनवरी को मुखबिर खास से सूचना प्राप्त हुई कि कार में लिफ्ट देकर लूटपाट करने वाले गिरोह का एक व्यक्ति आगरा चौक पर मौजूद है। सूचना मिलते ही टीम ने मौके पर दबिश दी और एक व्यक्ति को काबू किया गया। पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम गांव बिलासपुर, थाना दनकौर (यूपी) निवासी भीम बताया। तलाशी के दौरान आरोपी के कब्जे से एक हजार रुपये की नकदी बरामद हुई। पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश कर तीन दिन के लिए पुलिस रिमांड पर लिया। रिमांड के दौरान आरोपी भीम ने बताया कि उनका गिरोह सवारी का इंतजार कर रहे लोगों को अपने झांसे फंसाकर लूटपाट की वारदात को अंजाम देता है और उनका गिरोह अब तक पलवल व आस-पास जिले में लगभग सात-आठ वारदातों को अजाम दे चुके है। आरोपी के दो अन्य साथी फिलहाल फरार है जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस उनके ठिकानों पर दबिश दे रही है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी भीम को रिमांड अवधि समाप्त होने के बाद गुरुवार को अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।