भाजपा राज में भाजपा नेता के ही आये बुरे दिन , पुलिस ने की नींद हराम , विडियो जरूर देखें
October 11th, 2018 | Post by :- | 176 Views
 नूंह मेवात ,( लियाकत अली )  ।   भाजपा ने अच्छे दिनों का वायदा किया था। आमजन क्या अब तो उनकी सरकार में भाजपा नेताओं – समर्थकों के ही बुरे दिन आ गए। मार्केट कमेटी पुन्हाना वाइस चैयरमेन पूर्व सरपंच कल्लू खान तेड और उनके परिवार ने सपना तो अच्छे दिनों का देखा था ,लेकिन चार साल बाद उनके बुरे दिन आ गए। परिवार के कई लोग पुलिस ने महिला की हत्या मामले में या अन्य जुर्म में गिरफ्तार कर लिए हैं। हद तो तब हो गई जब सप्ताह भर में दो बार पिनगवां पुलिस मार्केट कमेटी के वाइस चैयरमेन कल्लू खान तेड को पूछताछ के लिए बैठा चुकी है। सप्ताह भर पहले तो उसे आसानी से छुड़ा लिया लेकिन बीती रात तो पूर्व सरपंच को छुड़ाने में नेताओं – ठोंडाओं ने पूरी रात काली कर दी। फिर भी एक दिन की मोहलत पर वाइस चैयरमेन को छोड़ा गया। इलाके में यह मामला सुर्ख़ियों में बना हुआ है। मंगलवार शाम तक एक दिन की पुलिस द्वारा वाइस चैयरमेन को दी गई मोहलत पूरी हो रही है। अब देखना है कि पुलिस का अगला स्टैंड क्या होगा। फ़िलहाल पुलिस कड़क है ,जिसके कारण पूर्व सरपंच और उसके नामजद परिजनों को नींद भी नहीं आ रही है। पुलिस की रेड लगातार पूर्व सरपंच कल्लू खान के छोटे भाई हसन सहित कई आरोपियों को दबोचने के लिए जारी है , तो नेता जी ने भी इस मुसीबत से बचने के लिए एड़ी – चोटी का जोर लगा दिया है।
 मुख्य आरोपी नसीम को इसमें पहले ही हिरासत में लिया जा चुका है ,लेकिन बाकि बचे  आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही हैं। हत्यारे तो पुलिस के हत्थे नहीं चढ़े ,लेकिन उनकी मदद करने वाला सलाखों के पीछे जरूर पहुंच गया। आरोपी का नाम वकील है , जो हत्यारोपियों के परिवार से ही संबंध रखता है।
बताया जाता है कि दहेज़ में कार की डिमांड पूरी नहीं की तो नव विवाहिता को जहर देकर मार डाला। मृतका  के परिजनों ने लड़की को नल्हड मेडिकल कॉलेज भर्ती कराया ,लेकिन उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई ।  लडक़ी के पिता कि शिकायत पर पिनगवां पुलिस ने पति सहित ससुराल पक्ष के 6 लोगों  पर भिन्न-भिन्न धाराओं  के तहत  मुकदमा दर्ज किया । मुकदमा दर्ज मार्केट कमेटी के वाइस चैयरमेन कल्लू खान के परिवार के लोगों पर दर्ज हुआ।
जानकारी के मुताबिक पुन्हाना विधानसभा के खेड़ला निवासी इश्लाम उर्फ़ पप्पू ने अपनी बेटी फातमा की शादी करीब 10 महीने पहले नसीम पुत्र हसन निवासी तेड के साथ मुस्लिम रीतिरिवाज के हिसाब से की थी। शादी में खूब दान दहेज़ दिया था, लेकिन ससुराल पक्ष के भूखे भेड़िये  फिर भी लगातार लड़की को तंग करते आ रहे थे । नसीम व उसका परिवार दहेज में दिए गए सामान से संतुष्ट नहीं हुए, नसीम  व उसका परिवार दहेज की भूख को मिटाने के लिए कार की मांग पर अड़े थे। लड़की शादी के बाद ससुराल पहुंची तो सारे परिवार ने मातम मनाना शुरू कर दिया। फातिमा ने सारी कहानी अपने पिता इस्लाम उर्फ पप्पू व अपनी मां को बताई , लेकिन पीहर पक्ष गरीब होने के नाते दहेज में कार देने में सक्षम नही था। फातिमा की हत्या के जुर्म में मामला पिनगवां पुलिस ने दर्ज कर लिया।
पहली शादी  ;- शाहपुर नंगली  गांव के पूर्व सरपंच नुसरत ने भी करीब वर्ष 2013 में अपनी बेटी की शादी तेड गांव के नसीम पुत्र हसन निवासी तेड के साथ की थी ,  दहेज़ की डिमांड पूरी नहीं की तो बेटी की 2017 में जान ले ली थी । लेकिन आज तक बेटी को इंसाफ नहीं मिला , उन्होंने कहा कि तेड का परिवार हत्यारा है, इन्होने एक नहीं बल्कि कई हंसती खेलती बेटियों की जान ली है। सरपंच ने कहा कि मेरी बेटी को इंसाफ मिल गया होता तो दूसरी बेटी मौत की नींद नहीं सोती। उपरोक्त दोनों ही मामलों में तेड गांव के हत्यारे परिवार के नामजद लोगों की पिनगवां पुलिस को तलाश है। जिसमें आंच पूर्व सरपंच एवं मार्केट कमेटी पुन्हाना के उपाध्यक्ष कल्लू खान तक भी पहुंच गई है। राजनैतिक गलियारों में मंगलवार को इसकी चर्चा जोर -शोर से रही। साथ ही नेताओं – ठोंडाओं  चेहरा भी सामने आ गया। जिन्होंने पूर्व सरपंच और उसके साथ गिरफ्त में लिए गए लोगों को छुड़ाने के लिए उन्होंने अपनी पूरी ताकत झोंककर एक दिन की मोहलत पर छुड़ा लिया। पिनगवां थाना प्रभारी आनंद कुमार ने कहा कि एक दिन की मोहलत पर पूर्व सरपंच कल्लू खान को छोड़ा गया है। अगर नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई , तो आरोपियों को शरण देने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।