ऑपरेशनल लेवल स्टाफ की क्षमता निर्माण पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन
September 13th, 2018 | Post by :- | 62 Views

नूंह मेवात ,( लियाकत अली )  ।   नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ  इलेक्ट्रॉनिक्स और इन्फ ोर्मेशन टेक्नोलॉजी राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान चंडीगढ़ एंव राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केन्द्र नूंह के द्वारा ऑपरेशनल लेवल स्टाफ  की क्षमता निर्माण पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। सुरक्षा और डिजिटल भुगतान जागरूकता में कांफ्र ेस हॉल नूंह  में को इस कार्यशाला का उद्घाटन अतिरिक्त उपायुक्त विक्रम द्वारा किया गया एवं जिला विज्ञान अधिकारी नदीम अख्तर द्वारा की उपस्थित में किया गया। अतिरिक्त उपायुक्त ने भाग ले रहे प्रतिभागियों को संभोदित करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य साइबर सुरक्षा क्षमता निर्माण फ ्रेमवर्क में परिभाषित उद्देश्यों को पूरा करना है, जो हरियाणा सरकार की हाल ही में घोषणा की गई राज्य साइबर सुरक्षा नीति का हिस्सा है।
प्रतिभागियों के बीच प्रशिक्षण किट वितरित किए गए थे जिसमें सूचना सुरक्षा और डिजिटल भुगतान विधियों पर जागरूकता के बारे में एक तैयार की गई पुस्तिका शामिल है। इस पुस्तिका में सरकारी संगठन के भीतर साइबर सुरक्षा घटनाओं का निपटान और शमन का वर्णन किया गया है।  उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार के परिचालन कर्मचारी एंव जिला अधिकारियों को जानकारी हासिल करने और डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के बारे में जागरूक किया गया। उन्हे आईसीटी के बुनियादी ढांचे। सूचना प्रणाली और नेटवर्क को प्रभावी ढंग से बनाए रखने पर जोर दिया गया। उन्हे साइबर स्पेस के संरक्षण के लिए सरकार के दृष्टिकोण और रणनीति की अंतर्दृष्टि प्रदान की गयी।
इस अवसर पर राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के संयुक्त निदेशक रमिन्दर सिंह ने जानकारी और उपकरणों की सुरक्षा पर बल दिया एंव साइबर स्पेस और इलेक्ट्रोनिक्स उपकरणों को हासिल करने के लिए व्याख्यान दिए ताकि सूचना उपलब्ध कर्मियों और आधिकारिक उपकरणों का अनधिकृत उपयोग को रोका जाए।  उन्होंने यह भी सूचित किया कि हरियाणा सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग हरियाणा में जिला स्तर पर इसी तरह की और कार्यशालाओ का  आयोजन किया जायेगा। उन्होंने जिला स्तर पर ऐसी कार्यशालाओं के आयोजन के लिए हरियाणा सरकार को धन्यवाद दिया। संयुक्त निदेशक ने राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान चंडीगढ में चल रहे विभिन प्म्ब्ज् ब्वनतेमे बारे में जानकारी दी।
इस अवसर पर जिला सूचना-विज्ञान अधिकारी नदीम अख्तर ने कार्यशाला में उपस्थित सभी अधिकारियों एंव कर्मचारियों को साईबर सुरक्षा के बारे सजग एवं सतर्क रहने के लिए कहा तथा अपने कार्यालय में काम करते समय सभी प्रकार के साईबर सुरक्षा की नीतियों को पालना करने के लिए प्रेरित किया। इस कार्यशाला में विभिन्न विभागों के प्रतिभागियों ने भाग लिया।