75 प्रतिशत अनुदान पर 5 होर्स पावर व 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम उपलब्ध करवाने का निर्णय
September 13th, 2018 | Post by :- | 293 Views
 नूंह मेवात ,( लियाकत अली )  ।   नवीकरणीय ऊर्जा मन्त्रालय भारत सरकार तथा हरियाणा राज्य के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा जिला के किसानों को खेतों की सिंचाई हेतू वर्ष 2018-19 में स्वीकृत योजना के अंतर्गत 75 प्रतिशत अनुदान पर 5 होर्स पावर व 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है। 5 होर्स पावर सबमर्सिबल पम्प सैट 50 मीटर की गहराई से एक दिन में लगभग 91 हजार 200 लीटर पानी देता है तथा 2 होर्स पावर सबमर्सिबल पम्प सैट 30 मीटर की गहराई से एक दिन में लगभग 63 हजार लीटर पानी देता है। अनुदान के बाद किसान को 5 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम 83 हजार 250 रुपए तथा 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम 48 हजार 250 रुपए रुपए का पड़ता है।
    अतिरिक्त उपायुक्त विक्रम ने जानकारी देते हुए बताया कि 25 अक्टूबर 2017 से 30 अक्टूबर 2017 तक जिला के किसानों से आवेदन मांगे गए थे। फलस्वरुप निर्धारित तिथि तक 5 होर्स पावर सोलर वाटर पम्पिंग सिस्टम के 289 तथा 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के 10 आवेदन अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय में प्राप्त हुए थे।
अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि जिला में 5 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के 97 व 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के 2 किसानों को सोलर पम्पिंग सिस्टम देने का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। उन्होने आगे कहा कि प्राप्त आवेदन पत्रों में से दिनांक 11 जुलाई 2018 को प्रात: 11:00 बजे डी.आर.डी.ए. में ड्रा के माध्यम से 5 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के 97 व 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के 2 किसानों का दिनांक 11. जुलाई 2018 को ड्रा द्वारा चयन किया गया। अभी तक चयनित आवेदकों में से 5 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के लिए केवल 55 आवेदकों तथा 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के लिए एक आवेदक द्वारा लाभार्थी हिस्सा राशि के डिमांड ड्राफ्ट जमा करवाया गये हैं।
उन्होंने बताया कि नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा 5 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम के निर्धारित लक्ष्य को घटा कर 65 तथा 2 होर्स पावर सबमर्सिबल सोलर पम्पिंग सिस्टम का लक्ष्य एक कर दिया गया है। इसलिए अब केवल 10 आवेदकों को ही इस योजना का लाभ दिया जा सकता है। उन्होंने चयनित आवेदकों की मुख्य सूची में से जिन 45 आवेदकों ने अभी तक लाभार्थी हिस्से की राशि का डिमांड ड्राफ्ट जमा नही करवाया है। उनमें से पहले आओ – पहले पाओ के आधार पर केवल 10 आवेदकों को दिनांक 17 सिंतबर को सांय 5:00 बजे तक लाभार्थी हिस्से की राशि 83 हजार 250 रुपए का डिमांड ड्राफ्ट जमा करवाने के लिए अन्तिम अवसर प्रदान किया है। इसके बाद मुख्य सूची में से शेष बचे 45 आवेदकों की पात्रता रद्द कर दी जायेगी और उन्हें कोई अवसर नहीं दिया जायेगा। उनके स्थान पर प्रतीक्षा सूची में चयनित 10 आवेदकों को अवसर प्रदान किया जायेगा।