राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने की निदेशक से मुलाकात
June 16th, 2018 | Post by :- | 1329 Views

कुरुक्षेत्र, लोकहित एक्सप्रेस, (अनिल सैनी)। राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ, हरियाणा के प्रतिनिधिमंडल की राज्य महासचिव सुरेश लितानी की अध्यक्षता में निदेशक मौलिक शिक्षा, हरियाणा से शुक्रवार दिनाँक 15-06-18 को 1 घण्टे तक लम्बी बैठक हुई और अनेक मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हुई :-

1. जेबीटी से टीजीटी पदोन्नति मामले में निदेशक महोदय को कुछ समस्याओं से अवगत करवाया गया। डिप्लोमा इन एजुकेशन और डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन को समान मानने बारे संघ द्वारा दिए गए दस्तावेजों को देख कर उन्होंने प्रथम द्रष्टया इससे सहमति व्यक्त की लेकिन उन्होंने दस्तावेज रखते हुए कहा कि वो सोमवार को इस मामले पर सम्बन्धित अधिकारियों से चर्चा करके उचित निर्णय लेंगे। इसी प्रकार 45% से पासआउट मामले में भी उन्होंने नियमों के अनुसार निर्णय लेने हेतु मुद्दे से सम्बंधित दस्तावेज अपने पास रख लिए। उन्होंने आश्वस्त किया कि वो खुद भी ज्यादा से ज्यादा जेबीटी शिक्षकों की पदोन्नति चाहते है और सकारात्मक रुख से हर निर्णय लेंगे।*

*2. संघ द्वारा पदोन्नति करने की समयसीमा बारे पूछने पर निदेशक महोदय ने बताया कि पदोन्नति हेतु तय शेड्यूल से प्रक्रिया एक सप्ताह लेट चल रही है लेकिन जून के अंतिम सप्ताह या जुलाई के प्रथम सप्ताह में अंतिम पदोन्नति सूचि जारी कर दी जायेगी। अंतिम लिस्ट से पहले सम्भावित पदोन्नति सूचि जारी की जायेगी और उस पर आपत्ति भी मांगी जायेगी और ग्रीवेंस की व्यक्तिगत सुनवाई की जायेगी। कोई अपना पदोन्नति केस नहीं दे पाया हो तो वो सीधे निदेशालय में दे सकता है। प्रत्येक पदोन्नति केस को डील किया जायेगा और प्रत्येक रिजेक्ट पदोन्नति केस के आगे उसके रिजेक्ट होने का कारण लिख कर उसकी लिस्ट भी जारी की जायेगी ताकि सम्बन्धित जेबीटी को पता चल सके कि उसका पदोन्नति केस किस कारण से रिजेक्ट हुआ है और वो अपने रिजेक्ट केस के संबंध में अपना पक्ष भी विभाग के समक्ष रख सके। पक्ष रखने का सबको मौका दिया जायेगा।*

*3. संघ द्वारा एस.एस., गणित व हिंदी टीजीटी पदों की पदोन्नति की मांग करने पर निदेशक महोदय ने कहा कि इन विषयों में टीजीटी सरप्लस है लेकिन संघ द्वारा दिए गए डाटा देखने के बाद उन्होंने कहा कि अगर इन तीनों विषयों में से किसी विषय में टीजीटी के कुछ पद रिक्त होंगे तो वो अवश्य पदोन्नति बारे विचार करेंगे।*

*4. संघ द्वारा अंतर-जिला स्थानांतरण के मुद्दे पर प्रगति बारे पूछने पर निदेशक महोदय ने बताया कि पदोन्नति के बाद 2011 में नियुक्त कोर्ट केस वाले जेबीटी के तबादले किये जायेंगे। फिर नई अंतर-जिला स्थानांतरण नीति के तहत अंतर-जिला स्थानांतरण किये जायेंगे और फिर सामान्य स्थानांतरण किये जायेंगे। नई अंतर-जिला स्थानांतरण नीति अप्रूव हो चुकी है और अब कैबिनेट से अंतिम अप्रूवल ली जायेगी और फिर नीति अमल में लाई जायेगी।*

*5. संघ द्वारा एनिवेयर श्रेणी के जेबीटी शिक्षकों की समस्या को प्राथमिकता से हल करने का मुद्दा पुनः रखने पर निदेशक महोदय ने बताया कि वो खुद इस मुद्दे को जल्द से जल्द हल करना चाहते है। संघ एनिवेयर जेबीटी साथियो से चर्चा करके निदेशक महोदय से आगामी सप्ताह होने वाली बैठक में पुनः चर्चा करेगा ताकि सही तरीके से समस्या हल हो सके।*

*6. संघ द्वारा रेगुलर चयनित परन्तु एडहॉक पर नियुक्त जेबीटी की रिक्त पदों पर रेगुलर नियुक्ति पुनः बहाल करने व नो-डेफिनेट चयनित जेबीटी की जल्द नियुक्ति का मुद्दा रखने पर निदेशक महोदय ने बताया कि वो इस संबंध में विभागीय प्रक्रिया शुरू कर चुके है। उन्होंने बताया कि हाई मेरिट वाले 85 चयनित जेबीटी ऐसे है जो हरियाणा कैडर व मेवात कैडर अर्थात दोनों कैडर में ही चयनित है और दोनों में से एक कैडर में नियमित नियुक्ति भी ले चुके है। इन 85 जेबीटी की दूसरे कैडर की रिक्त पोस्ट पर एडहॉक वाले 85 उच्च मेरिट वाले जेबीटी को रेगुलर नियुक्ति दे दी जायेगी।*

*7. संघ द्वारा प्राथमिक स्कूलों में सफाई कर्मचारी की नियुक्ति का मुद्दा उठाने पर निदेशक महोदय ने बताया कि एस.एस.ए. के तहत जल्दी ही प्राथमिक स्कूलों में मल्टी-पर्पज वर्कर की नियुक्ति की जायेगी।*

*8. निदेशक महोदय ने संघ की मांग पर आश्वासन दिया कि चरखी दादरी व भिवानी जिले को MIS पर अलग-अलग ट्रीट किया जायेगा।*

*9. मुख्यमंत्री स्कूल सौन्दर्यकरण की राशि जो लेप्स हो गयी थी जल्द जारी कर दी जायेगी।*

*संघ के प्रतिनिधिमंडल में राज्य कोषाध्यक्ष जितेंद्र कुंडू, क़ानूनी सलाहकार दलीप बिशनोई, मीडिया प्रभारी पवन सुन्दरखेड़ा, कैथल जिला प्रधान बलबीर सिंह, बंसी लाल झोरड़ सिरसा, मोबेन्द्र सिंह आदि सहित अनेक पदाधिकारी शामिल रहे।