ओएलएक्स लुटेरा दबोचा , बहादुरी दिखाकर पीड़ितों ने लूटने से बचाये दो लाख , (खबर की विडियो जरूर देखें )
June 13th, 2018 | Post by :- | 7 Views
 नूंह मेवात ,( लियाकत अली )  ।   ओएलएक्स पर सस्ती गाड़ी बेचने का विज्ञापन देकर दूरदराज राज्यों के लोगों को लूटने का मामला पुलिस सख्ती के बावजूद भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला पिनगवां थाना क्षेत्र अंतर्गत झारपूडी गांव का है। गत शुक्रवार को बदमाशों ने हथियार के दम पर कर्नाटक के रहने वाले दो लोगों से मोबाइल फ़ोन , सोने की चेन , कपडा से भरा बैग लूट लिया ,लेकिन बहादुरी दिखाते हुए कर्नाटक के गुरुप्रसाद और गौतम ने दो लाख रुपये की नकदी को बदमाशों से झड़प के बाद बचा लिया। दोनों के कपडे तक झड़प में फट गए , लेकिन अपनी रकम को बचा लिया और पिनगवां थाना में पहुंचकर अपनी सारी आपबीती सुनाई।
 पिनगवां पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर एक आरोपी अजरुद्दीन पुत्र वशीद निवासी फ़ाहरी राजस्थान को दबोच कर उसके कब्जे से कपडा का बैग और सोने की चेन बरामद कर ली , लेकिन पुलिस को अभी लुटे गए मोबाइल और मामले में नामजद दो अन्य बदमाश मुश्ताक और आसू निवासियान झारपूडी की तलाश है। पुलिस पकड़े गए बदमाश अजरुद्दीन को दो दिन के रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ कर रही है। अभी तक तीन बदमाशों के नाम तो पुलिस को पता  चल चुके हैं ,लेकिन कुछ और नाम सामने आने से भी पुलिस इंकार नहीं कर रही। रमजान के पवित्र माह में हुई झारपूडी गांव के समीप हुई इस लूट ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। पुलिस के मुताबिक गुरुप्रसाद और गौतम निवासी कर्नाटक ने ओएलएक्स पर एक्सयूवी 500 गाड़ी का विज्ञापन देखा और सस्ती गाड़ी का लालच उन्हें नूंह के झारपूडी गांव तक ले आया। कर्नाटक से दिल्ली एयरपोर्ट तक हवाई जहाज से और एयरपोर्ट से केआर मंगलम यूनिवर्सिटी सोहना तक उन्हें टैक्सी से बुलवाया। जहां मुश्ताक और आसू गाड़ी लेकर उनका इंतजार कर रहे थे और पकड़ में आया अजरुद्दीन लगातार कर्नाटक वालों से मोबाइल से संपर्क में था। झारपूडी गांव के समीप लाकर उन्हें देशी तमंचा की नोंक पर लूट शुरू कर दी। बदमाश ज्यादा थे , तो शरीर से मजबूत कर्नाटक के दो लोगों ने हिम्मत दिखाई और बदमाशों पर टूट पड़े। इसी बहादुरी के दम पर उन्होंने बड़ी लूट की वारदात को बचा लिया। पिनगवां थाना में कार्यरत एसआई बीर सिंह ने बताया कि आरोपियों के नाम सामने आ चुके हैं। जल्दी ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जायेगा।
खाली तमंचा देखने के बाद कर्नाटक के लोगों ने जुटाई हिम्मत
झारपूडी गांव में शुक्रवार को जब झारपूडी गांव में बदमाशों से कर्नाटक के गुरुप्रसाद नायक और गौतम की झड़प हो रही थी , तो बदमाशों के हाथ से तमंचा नीचे गिर गया। कर्नाटक के लोगों ने देखा कि तमंचा में गोली नहीं है , तो उनकी हिम्मत बढ़ गई। दिन का समय था। बस इसी हिम्मत ने सैकड़ों किलोमीटर दूर से आये कर्नाटक के लोगों में नया जोश भर दिया। उन्होंने जान पर खेलकर बदमाशों के उनके ही गांव में पसीने छुड़ा दिए। हाथों में दांत से काटने के जख्म भी हुए , लेकिन वे सही सलामत मामूली लूट के बाद सुरक्षित स्थान पर पहुंच गए , तो कुछ अमनपसंद लोगों ने उनकी मदद भी की।