जांजगीर-चांपा जिले में टेंपल सिटी शिवरीनारायण के लिटिल फ्लवर पब्लिक स्कूल मे खुलेआम कोरोना गाइडलाइन नियमों की उड़ाई जा रही हैं खुलेआम धज्जियां।
September 7th, 2021 | Post by :- | 273 Views

जांजगीर-चांपा जिले में टेंपल सिटी शिवरीनारायण के लिटिल फ्लवर पब्लिक स्कूल मे खुलेआम कोरोना गाइडलाइन नियमों की उड़ाई जा रही हैं खुलेआम धज्जियां।

छत्तीसगढ़ जांजगीर-चांपा जिले में टेंपल सिटी शिवरीनारायण के लिटिल फ्लवर पब्लिक स्कूल मे खुलेआम कोरोना गाइडलाइन नियमों की उड़ाई जा रही हैं खुलेआम धज्जियां।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

जी हां दरअसल पूरा मामला टेंपल सिटी शिवरीनारायण लिटिल फ्लावर पब्लिक स्कूल का है जहां कोरोना गाइडलाइन नियमों को अपने पैरों तले रौंदकर स्कूल का किया जा रहा है संचालन जहां 10 बाई 10 के छोटे से कमरे में 30 से 40 छोटे-छोटे मासूम बच्चों को बैठाकर पढ़ाया जा रहा है जहां पांव रखना तो दूर की बात है नन्हे बच्चों को सांस लेने में तकलीफ होती है ऐसे में स्कूल संचालक द्वारा कोरोना वायरस की तीसरी लहर को दावत देते हुए नजर आ रहे हैं और कोविड-19 के नियमों को दरकिनार कर स्कूल का संचालन किया जा रहा है जब पूरे मामले की पुष्टि के लिए वहां के संचालक से बात किया गया तो वह बातों को गोल मटोल जवाब देकर अपना पल्ला झाड़ते हुए नजर आए।

तो वही सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पिछले वर्ष कोरोना वायरस की दूसरी लहर में स्कूल कॉलेज पूर्ण रूप से बंद था जहां बच्चे स्कूल पढ़ने नहीं जा रहे थे स्कूल का संचालन नहीं हो रहा था फिर भी टेंपल सिटी शिवरीनारायण के लिटिल फ्लावर पब्लिक स्कूल में बच्चों से पूरे वर्ष का फीस लिया गया है जबकि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा साफ शब्दों में कह दिया गया था की लॉकडाउन के चलते स्कूल का संचालन नहीं हो पा रहा है तो किसी भी स्कूल में बच्चों से किसी प्रकार का फीस नहीं लिया जाएगा फिर भी इस स्कूल में प्रशासन के नियमों की अवेलना करते हुए मनमाने तरीके से बच्चों से फीस लिया गया है।

अब देखना यह होगा कि खबर चलने के बाद संबंधित अधिकारी इस मामले को किस प्रकार से संज्ञान में लेकर इस स्कूल पर क्या बड़ी कार्यवाही करते हैं या फिर इस मामले को नजरअंदाज करके कोरोना वायरस की तीसरी लहर को संबंधित अधिकारी दावत देंगे और छोटे छोटे नन्हे बच्चों को कोरोना वायरस के हवाले कर देंगे सवाल तो बहुत है मगर जवाब एक भी नहीं।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review