रतन लाल कटारिया ने लघु सचिवालय के सभागार में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता की।
August 21st, 2021 | Post by :- | 433 Views
पंचकूला।(मनीषा) अंबाला के सांसद  रतन लाल कटारिया ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे जिला में केन्द्र सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं व कार्यक्रमों को प्रभावी और समयबद्ध तरीके से लागू कर उनका लाभ पात्र लाभार्थियों को देना सुनिश्चित करें ताकि अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हो सके।
 रतन लाल कटारिया आज लघु सचिवालय के सभागार में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष  ज्ञानचंद गुप्ता, उपायुक्त विनय प्रताप सिंह व नगर निगम के महापोर  कुलभूषण गोयल भी उपस्थित थे।
 रतन लाल कटारिया ने कहा कि दिशा की बैठक एक महत्वपूर्ण बैठक है और यह हमें एक ऐसा मंच प्रदान करती है जिसके माध्यम से जन हित में लोगों की समस्याओं का समाधान समयबद्ध तरीके से किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र में लोगों को जन प्रतिनिधियों से अनेक अपेक्षाएं होती हैं तथा इन्हें पूरा करने के लिए अधिकारी एक टीम के रूप में कार्य करें। उन्होंने कहा कि अधिकारियों का लक्ष्य जनता की सेवा करना होना चाहिए।
बैठक में बताया गया कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोज़गार गारंटी योजना के तहत जिला में वर्ष 2021-22 के लिए 97 हजार 737 श्रमदिवस का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। योजना के तहत जुलाई माह में 78 हजार 800 श्रम दिवस के निर्धारित लक्ष्य में से 34 हजार 614 श्रमदिवस का लक्ष्य प्राप्त कर लिया गया है। योजना के तहत श्रमिकों को 315 रूपए प्रतिदिन के हिसाब से वेतन दिया जा रहा है।
बैठक मे बताया गया कि पंचकूला राज्य का ऐसा पहला जिला है जहां खण्ड मोरनी व बरवाला में आधुनिक सेनिटरी नैपकिन की दो मशीनें लगाई गई हैं, जो महिलाओं के स्वास्थ्य से संबंधित आवश्यकताएं पूरी कर रही हैं एवं आय भी अर्जित कर रही हैं। इसकेे अलावा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत वर्ष 2021 में जुलाई माह तक 96 स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को 246 लाख रूपए का विभिन्न बैंकों से ऋण दिलवाया गया है। वर्ष 2021-22 के अंतर्गत कुल 150 स्वयं सहायता समूह बनाने का लक्ष्य रखा गया है जिसमें से अप्रेल 2021 से अब तक कुल 77 नये स्वयं सहायता समूह बनाए गए हैं। इस वर्ष अप्रैल माह के बाद 96 स्वयं सहायता समूह को 246 लाख रूपए का ऋण बैंकों से दिलवाया गया है।
बैठक में बताया गया कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत जिला के 165 गांवों में से 28 को पेयजल एवं जल मंत्रालय भारत सरकार द्वारा खुले में शोच मुक्त (ओडीएफ) प्लस घोषित किया जा चुका है तथा शेष 137 गांवों को भारत सरकार तथा राज्य सरकार की टीम के निरीक्षण उपरांत ओडीएफ प्लस घोषित किया जायेगा। सरकार द्वारा जिला पंचकूला को विशेष दर्जा देते हुए दूसरे चरण में श्यामा प्रसाद मुखर्जी योजन आरंभ करने की स्वीकृति प्रदान की गई है तथा साथ-साथ हरियाणा सरकार द्वारा कालका क्षेत्र के गणेशपुर को पंचकूला जिले के कलस्टर हेतु चुना गया  है। गणेशपुर क्लस्टर के अंतर्गत खण्ड पिंजौर के 38 गांवों को सम्मिलित किया गया है। क्लस्टर के विकास हेतु 110.64 करोड़ रूपए की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनाई गई है।
बैठक में बताया गया कि राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के तहत वृद्धावस्था सम्मान भत्ता योजना के लिए जिन लाभार्थियों के पास आयु प्रमाण पत्र नहीं हैं उनकी जांच मुख्य चिकित्सा अधिकारी पंचकूला से करवाई जानी थी, जो कोरोना महामारी के कारण लंबित थी परंतु इसे जुलाई 2021 से कोरोना नियमों को ध्यान में रखते हुए पुनः आरंभ कर दिया गया है। भारत नेट योजना के तहत ओप्टीकल फाईबर के माध्यम से ग्राम पंचायतों को इंटरनेट से जोड़ा गया है तथा प्रत्येक ग्राम पंचायत में इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। जिला पंचकूला की कुल 128 ग्राम पंचायतों को इस योजना से जोड़ा गया है।
बैठक मे सांसद  रतन लाल कटारिया व विधाानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने जिन अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की उनमें स्वच्छ भारत मिशन, अटल मिशन फाॅर रिजूवेनेशन एण्ड अर्बन ट्रांसफोर्मेशन (अम्रुत), राष्ट्रीय ग्रामण पेयजल कार्यक्रम, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, समग्र शिक्षा, समेकित बाल विकास योजना, मिड-डे-मील स्कीम, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, डिजीटल इंडिया-पब्लिक इंटरनेट एक्सेस प्रोग्राम-प्रत्येक ग्राम पंचायत में सामान्य सेवा केन्द्र उपलब्ध कराना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, प्रधानमंत्र उज्जवला योजना-बीपीएल परिवारों के लिए एल.पी.जी. कनेक्शन, दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योजित योजना शामिल हैं।
इस अवसर पर उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने सांसद श्री रतन लाल कटारिया व विधानसभा अध्यक्ष श्ज्ञानचंद गुप्ता का धन्यवाद किया और उन्हें आश्वस्त किया कि सभी अधिकारी एक टीम के रूप में कार्य करते हुए जिला में चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों को प्रभावी ढंग से लागू करने का प्रयास करेंगे।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रज़ा, जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी निशु सिंघल, एसडीएम रिचा राठी व विभिन्न विभागों के संबंधित अधिकारी भी उपस्थित थे।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review