शांति और भाई चारे के साथ धार्मिक कार्यों का ले आनन्द
September 25th, 2019 | Post by :- | 101 Views

श्रावस्ती,(नितिश कुमार तिवारी)

शांति और भाई चारे के साथ धार्मिक कार्यों का ले आनन्द

उपजिलाधिकारी

मल्हीपुर श्रावस्ती आगामी आने वाले त्योहार व दुर्गा पूजा के मद्देनजर थाना मल्हीपुर में पीस कमेटी का आयोजन किया गया

जिसकी अध्यक्षता उपजिलाधिकारी जमुनहा ने किया। इस दौरान क्षेत्राधिकारी हौसला प्रसाद भी मौजूद रहे। सर्व प्रथम अपने सम्बोधन में थानाध्यक्ष मल्हीपुर देवेंद्र पांडेय ने जानकारी देते बताया कि थाना क्षेत्र मल्हीपुर में 108 दुर्गा प्रतिमा रखी जायेगीं।

इस दौरान सुरक्षा ब्यवस्था के लिए रूपरेखा तैयार कर ली गई। उन्होंने बताया कि प्रत्येक दुर्गा पूजा स्थल पर भी सुरक्षा दृष्टिगत पुलिस की ब्यवस्था की जाएगी ।

उन्होंने कहा की दुर्गा पूजा पंडाल में यदि कोई नशे की हालत में मिलता है तो वह ब्यक्ति राक्षसी कार्य करने वाला है उसको पकड़कर हमे सौपें , पकड़वाने वाले को मैं 1हजार रुपये का पुरुस्कार भी देने का काम करंगे।

धार्मिक कार्यों के दौरान गड़बड़ी या उन्माद फैलाने वालों को चिन्हित कर सख्ती से कार्यवाही की जाएगी। थाना मल्हीपुर क्षेत्र के तहत अधिक से अधिक दुर्गा प्रतिमाएं बर्रोंह पुल व उल्टहवा पुल में विसर्जित की जाती हैं।

वहां पर विशेष सुरक्षा ब्यवस्था की जाएगी। वहीं थानाध्यक्ष ने बताया कि पुलिस अधीक्षक के द्वारा इस बार दुर्गा पूजा से लेकर विसर्जन तक पूजा कमेटी के लोगों को आईकार्ड जारी किया जाएगा और पूजा कमेटी के कार्ड धारक को पूर्ण सर्वाधिकार निहित होगा।

वहीं थानाध्यक्ष ने उपस्थित लोगों से पूजा स्थल या प्रतिमा निकलने वाले रास्ते को लेकर किसी प्रकार की समस्या या विवाद की जानकारी ली और समय रहते ही समस्या का निराकरण करने की बात कही।

इस दौरान उपजिलाधिकारी जमुनहा मयाशंकर यादव ने कहा कि कोई भी त्योहार हो या धार्मिक कार्य हों परम्परागत तरीके से तथा भाई चारे के साथ उसका आनन्द लेना चाहिए।

इस मौके पर हरीश जायसवाल, प्रलाद सिंह, अश्विनीकुमार वर्मा, रामू हिंदुस्तानी, गुड्डू सिंह, मनोज कुमार वर्मा, तेज प्रकाश वर्मा, महेश मिश्रा ओम , सरोज यादव सहित तमाम सम्भ्रान्त लोग उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।