किसान व भाजपा नेता हुए आमने-सामने प्रशासन ने किया बीच बचाव
August 3rd, 2021 | Post by :- | 211 Views
श्रीगंगानगर,(कमल मिड्‌ढा) श्रीविजयनगर में घग्घर नदी के पानी को टेल तक पहुंचाने की मांग को लेकर किसानों की ओर से पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत उपखंड कार्यालय पर प्रदर्शन किया गया ऐसे में अचानक भाजपा के नेता भी घग्घर नदी के पानी को टेल तक पहुंचाने की मांग के लिए उपखंड कार्यालय पहुंचे उपखंड कार्यालय पर किसानों व बीजेपी नेताओं में टकराव की स्थिति बनी संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले प्रदर्शन कर रहे किसानों की ओर से भाजपा के खिलाफ नारेबाजी की गई वहीं भाजपा को किसानों की हत्यारी सरकार बताया गया। किसानों की ओर से तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने को लेकर भी नारेबाजी की गई। कृषि कानूनों के विरोध जारी किसान आंदोलन जिले में भी भाजपा के लिए सिरदर्द बनता जा रहा है आज  सयुक्त किसान मोर्चा द्वारा घग्घर नदी का पानी अनूपगढ़ तक पहुंचाने व घग्घर नदी के बहाव क्षेत्र में कृषि फार्म के अवैध अतिक्रमण को हटाने की मांग को लेकर उपखण्ड कार्यालय पर प्रदर्शन किया प्रदर्शन के दौरान अनूपगढ़ विधायक संतोष बावरी व रायसिंहनगर विधायक बलबीर लूथरा को भी किसानों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा
घग्घर नदी के सिंचित क्षेत्र के किसानों ने बड़ी संख्या में एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया वहीं अनूपगढ़ व रायसिंहनगर विधायक भी पहुंच गए किसानों ने दोनों भाजपा विधायकों के खिलाफ़ जोर नारेबाजी करते हुए विरोध किया व काले झंडे दिखाए किसानों ने आरोप लगाया कि भाजपा का चरित्र पूर्ण रूप से किसान विरोधी है ऐसे में भाजपा बार बार किसानों के बीच पहुंच कर नौटंकी कर रही है किसानों ने भाजपा विधायकों को वापिस जाने के लिए कड़े शब्दों में कहा कि सयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर वे भाजपा से किसी प्रकार की सहानुभूति नही रखते है मौके पर पहुंचे भाजपा विधायकों को किसानों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा वे आक्रोशित किसानों को सतुंष्ट करने में असफल रहे। किसानों का कहना है कि सिंचाई सुविधा से लेकर किसान का प्रत्येक अधिकार आंदोलन के जरिये मिलता रहा है उन्हें भाजपा विधायकों से किसी प्रकार के एहसान की जरूरत नही है वहीं भाजपा विधायक यदि किसानों का भला चाहते है तो अपनी पार्टी के उच्च स्तरीय नेताओं से कृषि कानूनों को रद्द करने व एमएसपी की गारंटी पर कानून बनाने की बात करें किसानों का नेतृत्व कर रहे किसान सभा की केंद्रीय किसान कौंसिल के सदस्य कॉमरेड श्योपत मेघवाल ने कहा कि घग्घर नदी के पानी पर अनूपगढ़ तक किसानों का कुदरती अधिकार है जिसे किसी कीमत पर छीना नही जा सकता।
उन्होंने ने नदी के बहाव क्षेत्र में कृषि फार्म के द्वारा अवैध अतिक्रमण करने का आरोप लगाया मेघवाल ने कहा कि प्रशासन को किसानों के हित में घग्घर नदी के पानी को अनूपगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र तक पहुंचाने में ठोस कदम उठाना चाहिए किसान सभा के नेता रणवीर सेखों ने कहा कि घग्घर नदी में हर बार पानी की आवक के समय पानी को अवरुद्ध करने की समस्या रहती है जो धीरे धीरे स्थाई समस्या बनती जा रही है  व्यापार मंडल के अध्यक्ष भजन कामरा ने घग्घर नदी के बहाव क्षेत्र को सुरक्षित करने के लिए किसानों व पूरे क्षेत्र को एकजुट होने का आह्वान किया उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार सहित प्रशासनिक अधिकारियों व  किसान प्रतिनिधि मंडल में हुई वार्ता के बाद प्रशासन ने आश्वस्त किया कि वे किसानों की उपस्थिति में एक कमेटी का निर्माण कर मंगलवार से अतिक्रमण हटाने का अभियान शुरु करेंगे ताकि किसानों को पूरा पानी मिल सके इस दौरान किसान नेता सुनील गोदारा,शैलेन्द्र मल्ली,राजा हेयर,गुरसेवक ग्रेवाल,गुरप्रीत पड्डा, गुरविंद्र सिंह आदि शामिल थे।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review