कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष सुधीर तिवारी सहित कई नेता सपा में हुए शामिल – विपक्षी खेमे में मची हलचल
July 18th, 2021 | Post by :- | 306 Views

वरिष्ठ नेता सुधीर तिवारी सहित पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखलाक अंसारी bsp के क़द्दावर नेता हरजिंदर सिंह कहलो ने ज्वाइन की सपा,,

जिले की सिसायत में बड़ा बदलाव,,

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

विपक्ष पार्टियों के नेताओ में हड़कंप

पीलीभीत में सियासी हवाओ का रूख बदलने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता व कांग्रेस पूर्व जिलाध्यक्ष सुधीर तिवारी ने बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अखलाक अंसारी व सपा जिलाध्यक्ष जगदेव सिंह जग्गा के साथ सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ शिष्टाचार भेंट कर समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर सपा में शामिल हुए । आपको बता दें पीलीभीत की राजनीति में सुधीर तिवारी एक ऐसा नाम है जो राजनीति में वरिष्ठ नेता के तौर पर सियासी जामे को पलटने के लिए जाने जाते है, यही नहीं जमीनी स्तर से आला हाई कमान तक उच्च वर्गीय सोच की वजह से ही जिले में उनका कद अपनी अलग साख रखता है, यही वजह से है कि वे कांग्रेस की सत्ता के समय में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ही नही रहे बल्कि पीलीभीत की राजनीतिक सियासत को नेतृत्व देकर कई नेताओ को चुनाव लड़ाकर जीत दिलाकर उनकी ताज पोशी भी की। सूत्रों की माने तो जिले में अब तक कई विपक्ष संगठनो के नेताओ को मजबूत स्तम्भ भी तिवारी जी के संरक्षण में ही दिया जाता रहा है । फिर चाहे भाजपा की सत्ता सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन व आंदोलनों में बढ़ चढ़ सफल बनाने में भूमिका ही क्यों न रही हो  । यही वजह रही की जिले में विपक्ष होने के वावजूद संगठन के आंदोलनों को भी बल मिलता रहा है, हालांकि वरिष्ठ नेता सुधीर तिवारी,  सहित अखलाक अंसारी व हरपीत सिंह कहलो जैसे नेता समाजवादी पार्टी में शामिल होने से सपा का जिले में कद जरूर बढ़ा है, लखनऊ में राष्ट्रीय अध्यक्ष से मुलाकात के दौरान सपा जिलाध्यक्ष जगदेव सिंह जग्गा, सपा नेता प्रदीप सोनकर, कांग्रेस पूर्व जिलाध्यक्ष सुधीर तिवारी, bsp नेता अखलाक अंसारी, सहित हरजिंदर सिंह कहलो शामिल रहे।

*विपक्ष पार्टियों में मची हलचल*

पीलीभीत की सियासत में बड़े नेताओ का नाम समाजवादी पार्टी में शामिल होने से सपा खेमे में खुशी की लहर देखने को मिल रही है, वहीं दूसरी ओर विपक्ष खेमे में सियासी हलचल शुरू हो गई है, ऐसे में राजनीतिक विशेषज्ञों की माने तो सपा का कद बढ़ने से भाजपा को तगड़ा झटका लगा है, जिसको लेकर आने वाले विधानसभा 2022 में भाजपा के सामने मुसबीतें खड़ी कर दी है। क्योंकि भाजपा संगठन के बीच गुटबाजी इस बार विधानसभा चुनाव में जनप्रतिनिधियों से लेकर पूरे भाजपा संगठन को भारी पड़ सकती है। और समाजवादी पार्टी को इस भाजपाई गुटबाजी का फायदा मिलेगा ।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review