शैक्षिक भ्रमण विद्यार्थियों के व्यक्तित्व का संतुलित विकास करते हैं ; कुसुम आध्या
September 24th, 2019 | Post by :- | 178 Views
कालका (रोहित शर्मा) । श्रीमती अरूणा आसिफ अली पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज कालका में जीव वैज्ञानिक की प्रोफेसर डॉ बिंदु और वनस्पति विज्ञान के प्रोफेसर डॉ रामचंद्र के मार्गदर्शन और दिशा निर्देशन में एक शैक्षिक भ्रमण का आयोजन किया गया।
जानकारी देते हुए प्रोफेसर डॉ बिंदु ने बताया कि इस दौरान मेडिकल बीएससी प्रथम तथा तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों को कसौली में सेंट्रल रिसर्च इंस्टीट्यूट लेकर गए। सेंट्रल रिसर्च संस्थान में डॉ गुलशन ने संस्थान के प्रमुख लक्ष्य के बारे में जानकारी दी, कि यह संस्था लगभग 114 वर्ष से देश की सेवा में योगदान दे रही है। जिसमें मुख्यतः वैक्सीन, रेबीस, इनफ्लुएंजा डायपर डाईपथिरा तथा सांप वेनम बनाए जाते हैं। डॉक्टर गुलशन ने वैक्सीन को तैयार करने के संपूर्ण प्रोसेस के बारे में बच्चों को जानकारी दी। इसके साथ ही डॉ निरुपमा गौतम ने विद्यार्थियों को वाटर यूटिलिटी यूनिट के बारे में अवगत करवाया, जो वैक्सीन बनाने के लिए मूल तत्व है। इसके उपरांत विद्यार्थियों ने अपने सिलेबस में निर्धारित पौधे भी एकत्रित किए।
कॉलेज प्राचार्य कुसुम आद्या ने कहा कि शैक्षिक भ्रमण विद्यार्थियों के व्यक्तित्व का संतुलित विकास करते हैं। मनोरंजन के माध्यम से सीखना शिक्षा का सबसे अच्छा तरीका है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।