मन,चित्त,स्वस्थ शरीर रखने के लिए योग,प्राणायाम,सूर्य नमस्कार प्रतिदिन करना है आवश्यक – स्वामी श्री बालमुकुंद आचार्य जी महाराज
June 23rd, 2021 | Post by :- | 252 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आज 21 जून को स्वामी श्री बालमुकुंद आचार्य जी महाराज हाथोज धाम ने सभी देशवासियों को बधाई देते हुए योगा किया और कहा कि मन, चित्त, स्वस्थ शरीर रखने के लिए योग, प्राणायाम, सूर्य नमस्कार प्रतिदिन करना अति आवश्यक है। उन्होंने बताया कि शरीर मन और आत्मा को नियंत्रित करने में योग मदद करता है। शरीर और मन को शांत करने के लिए शारीरिक और मानसिक अनुशासन का एक संतुलन बनाता है। यह तनाव और चिंता का प्रबंधन करने में भी सहायता करता है। योगासन शक्ति शरीर में लचीलापन और आत्मविश्वास विकसित करने के लिए भी किया जाता है। योग सत्र में मुख्य रूप से व्यायाम ध्यान और योगासन शामिल होते हैं। जो विभिन्न मांसपेशियों को मजबूत करते हैं। दवाई जो हमारे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है से बचने का यह एक अच्छा विकल्प है। स्वामी श्री बालमुकुंद आचार्य जी महाराज ने कहा कि योग करने का मुख्य लाभ यह है कि यह तनाव कम करने में मदद करता है। तनाव का होना इन दिनों एक आम बात है। जिससे शरीर और मन पर विनाशकारी प्रभाव पड़ता है। तनाव के कारण लोगों को क्रोध, अनिद्रा, ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ जैसी गंभीर समस्याएं पैदा होती है। नियमित अभ्यास मानसिक स्पष्टता और शांति बनाता है जिससे मन को आराम मिलता है। परम ब्रह्म की प्राप्ति हेतु ब्रह्म बेला में प्रतिदिन योगा सूर्य नमस्कार ध्यान करें स्वस्थ रहें प्रसन्न रहें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review