विनोद हत्याकांड में भीम आर्मी के युवाओं ने मांगा न्याय
June 9th, 2021 | Post by :- | 65 Views

गजसिंहपुर, (यश कुमार) । कस्बे में मंगलवार को डॉ भीमराव अम्बेडकर नवयुवक संघ ने मुख्यमंत्री के नाम उपतहसील में नायब तहसीलदार को ज्ञापन सोंपा इस ज्ञापन में बताया गया कि हनुमानगढ़ जिले के रावतसर के किकरालिया गाँव में विनोद कुमार मेघवाल को कुछ युवको ने बाबा साहेब भारत रत्न डॉ.भीमराव अम्बेडकर की जयंती समारोह के दौरान बैनर लगाने की रंजिश रखते हुए खेत जाते हुए रास्ता रोकर मारपीट की जिससे विनोद कुमार मेघवाल की मृत्यु हो गई है विनोदकुमार मेघवाल अपने परिवार का एकमात्र सहारा था जो मजदूरी कर अपना परिवार चला रहा था जिसकी हाल ही में शादी हुई थी व पिछले कुछ दिनों में ये देखने को आ रहा है कि राजस्थान राज्य में दलितों पर अत्याचार दिन प्रतिदिन बढते ही जा रहा है इन घटनायो के पीछे एक वर्ग विशेष को निशाना बनाकर प्रताड़ित करने की मंशा उजागर हो रही है जो वर्ग वर्षो तक गुलामी की जंजीरों में जकड़ा रहा हो वह वर्ग अगर उन्नति कर रहा है तो कुछ लोग जो इस वर्ग से इर्ष्या का भाव रखते है वह पग पग पर इस वर्ग को नीचे गिराने का काम कर रहा हैं जो अब हत्या जैसी घटनाओ पर उतर आया है तथा डॉ.भीमराव अम्बेडकर की जयंती समारोह के दौरान बैनर लगाने की घटना को लेकर दोनों पक्षों के बीच मारपीट भी हो चुकी थी जिसमे रावतसर पुलिस थाना में नामजद मुल्जिमानो के खिलाफ विनोदकुमार मेघवाल की तरफ से एक एफ.आई.आर. भी दर्ज करवाई गई थी ।

जिसमे पुलिस ने ढिलाई बरतते हुए किसी भी मुल्जिमान को गिरफ्तार नही किया अपितु आरोपियों को सह देने का काम किया जिससे आरोपियों का होंसला बढता रहा और उन्होंने विनोदकुमार मेघवाल के साथ दूसरी बार जब वह मजदूरी के लिए खेत जा रहा था तब रास्ता रोकर मारपीट की जिससे उसकी इलाज़ के दौरान मृत्यु हो गई अतः आपकी नैतिक जिम्मेवारी बनती है कि आप उक्त घटना पर स्वयं संज्ञान लेकर उक्त घटना में शामिल सभी आरोपियों व आरोपियों को सह देने वाले अधिकारियो पर कानूनी कार्यवाही करने का काम करे ताकि आने वाले समय में दलित समाज के साथ किसी भी प्रकार के अत्याचार को रोका जा सके उन्होंने चेतावनी दी कि अगर उक्त घटना में शामिल सभी आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार व उनको सह देने वाले अधिकारियो को निलम्बित नही किया जाता है तो दलित समाज विश्व महामारी की परवाह न करते हुए सडको पर उतर कर एक बड़ा जनआन्दोलन शुरू करेगा जिसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार व प्रशासन की होगी अन्याय सहन करने की ताकत जबाव दे रही है दलित समाज राज्य का बहुत बड़ा तबका है जिसे उसके अधिकारों से वंचित नही किया जा सकता है व उक्त घटना को लेकर समाज में रोष व्याप्त है इस मौके पर संघ के पदाधिकारी हरिश चंद्र नायक, सुखराज कालवा व मेघराज आदि मौजूद रहें ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।