जंडियाला शहर में सीवरेज सिस्टम सही ना होने के चलते ,कृषि सिंचाई करने वाले रजबाहे का पानी हो रहा है दूषित ।
June 5th, 2021 | Post by :- | 217 Views
जंडियाला शहर में सीवरेज का सिस्टम सही ना होने के चलते ,

कृषि सिंचाई वाले पानी हर रोज़ हज़ारों लीटर गंदे पानी के मिलने से हो रहा है दूषित।
शहर में 15 वर्ष पहले करोड़ो रूपये खर्च होने के बाद भी हालात वही ।
जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
जंडियाला गुरु के पास अपरबारी दुआब नहर गुजरती है जिससे कृषि  सिंचाई के लिए एक रजबाहा निकलता है जिसकी लंबाई करीब 7 -8 किलोमीटर है ।इसके पानी से जंडियाला गुरु ,गांव जानिया ,ठठिया ,सूक्खेवाल समेत कई गांवों को कृषि  सिंचाई के लिए  प्रयोग किया जाता ।पिछले दशक से जंडियाला गुरु के शहर की आबादी में बढ़ोतरी हुई है ।इसके कारण शहर में बिजली  ,सीवरेज सिस्टम और पानी की जरूरत भी पड़ती है ।लेकिन जो हालात वह इसके विपरीत है ।
बता दे कि आज से करीब 15 वर्ष पहले यानि वर्ष 2007 में जब हल्का विधायक  मलकीत सिंह ए आर  थे उनके कार्यकाल में सीवरेज का काम शुरू किया गया था जो आज तक काम पूरा नही हो पाया है ।इसका खामियाजा शहर निवासियों को भुगतना पड़ रहा ।
यह रजबाहा  जिसमे हर रोज़ हज़ारों लीटर दूषित पानी मिलता है की सफाई के लिए नगर कौंसिल के अंतर्गत आते क्षेत्र में पिछले कई वर्षों से  हर वर्ष रजबाहे की।सफाई के लिए हज़ारो रुपये खर्च कर दिये जाते है लेकिन सीवरेज के सिस्टम की ओर कभी ध्यान नही दिया कि इसका स्थाई हल निकाला जा सके ।
दूसरी तरफ नहरी विभाग के जे ई सुखदीप।सिंह ने बताया कि नगर कौंसिल को लिखित तौर पर भी इस गन्दे पानी को बंद करने के लिए कह चुके लेकिन आज तक कोई ठोस एक्शन नही लिया गया ।अगर फिर भी कोई इसका नतीजा नही निकला  तो विभाग सख्त से सख्त कार्वाई करेगा ।
इस मामले में पत्रकार द्वारा जब नगर कौंसिल के ई ओ जगतार सिंह से बात करनी चाही तो उन्होंने  ने फोन नही उठाया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।