प्रतिभा प्रदर्शन के लिए ऑनलाइन राज्य स्तरीय ग्रीष्मकालीन शिविर-2021 है सुनहरा अवसर-जिला बाल कल्याण अधिकारी विश्वास मालिक।
June 2nd, 2021 | Post by :- | 228 Views

करनाल, हरियाणा (रजत शर्मा)। जिला बाल कल्याण अधिकारी, करनाल विश्वास मालिक ने बताया कि प्रतिभा प्रदर्शन के लिए ऑनलाइन राज्य स्तरीय ग्रीष्मकालीन शिविर-2021 है सुनहरा अवसर। हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद, चंडीगढ़ द्वारा आयोजित ऑनलाइन राज्य स्तरीय ग्रीष्मकालीन शिविर-2021 का अंतिम सप्ताह शुरू हो चुका है।

शिविर के प्रथम सप्ताह का रिजल्ट भी हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद की वेबसाइट www.childwelfareharyana.com पर अपलोड कर दिया गया है, अत: बच्चे अपना ई-प्रमाण पत्र उक्त वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं।

उन्होंने जिले के प्रत्येक बच्चे से अपील है कि शिविर के अंतिम सप्ताह में सिखाई जा रही पेपर-क्राफ्ट, कैलीग्राफी, डेक्लामेशन, सोलो-सोंग,सोलो-डांस कत्थक, सोलो-डांस पेट्रियोटिक, ब्लॉग-लेखन, बेबी-शो,प्राणायाम, (अन्य गतिविधि) हारमोनियम/ कीबोर्ड/ केसियों वादन आदि गतिविधियों में से अपने आयु-वर्ग की ज्यादा से ज्यादा गतिविधियों को सीख कर बच्चे उनमें अपना रजिस्ट्रेशन करवाएं।

शिविर में 3 से 18 वर्ष के बच्चों को चार आयु वर्ग में 36 तरह की गतिविधियां सीखने को मिली हैं अत: प्रतिभागी बच्चे अपना रजिस्ट्रेशन 6 जून को मध्य रात्रि 12.00 बजे तक किसी भी समय करवा कर अपनी गतिविधी की फोटो/वीडियो हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद की वेबसाइट पर अपलोड कर सकते हैं।

इस प्रकार ग्रीष्मकालीन शिविर के माध्यम से इस महामारी के समय में भी बच्चे घर के सुरक्षित माहौल में रहते हुए हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद की वेबसाइट पर बढ़चढ़ कर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन रहे हैं। इस शिविर मे अभी तक करनाल जिले से 8800 बच्चों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है।

उन्होंने जिले के प्रत्येक बच्चे व उनके अभिभावकों से अपील की है कि इस शिविर के तीसरे सप्ताह में सिखाई जा रही गतिविधियों में और अधिक रजिस्ट्रेशन करवा कर जिले को प्रथम स्थान दिलवाएं।

पुन: करनाल के सभी वार्डों के पार्षदों, ग्राम पंचायतों के पंचों-सरपंचों, अधिकारियों एवं कर्मचारियों, प्राइवेट-पब्लिक व सरकारी स्कूलों के सभी अध्यापकों से अनुरोध है कि वे जिले के सभी बच्चों को ये गतिविधियां सीखने के लिए और अधिक प्रेरित करें।

उन्होंने कहा कि सभी बच्चों की गतिविधियों के फोटो/वीडियो को शिविर की वेबसाइट पर अपलोड करवाने में उनका सहयोग करें और इस प्रकार उनका रजिस्ट्रेशन करवा कर बच्चों की भागेदारी बढ़ाएं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।