भारत के किसान, मजदूर ,व्यापारी, छात्र व आम जनता सरकार से है बहुत दुखी व परेशान-किसान जागृति सगठन के राष्ट्रीय महासचिव राजकुमार भारत।
May 29th, 2021 | Post by :- | 248 Views

हरियाणा (लोकहित एक्सप्रेस)। सयुक्त किसान मौर्चा (भारत) किसान जागृति सगठन के राष्ट्रीय महासचिव राजकुमार भारत ने दिल्ली से अमृतसर जाते समय पत्रकारो से बातचीत करते हुए और उनके प्रश्नों के जवाब मे कहा की स० गुरूनाम सिह चढूनी और राकेश टिकेत प्रकरण व अन्य सभी देश के किसान नेताओ के बारे मे जानते है।

राजकुमार भारत ने कहा कि स०चढूनी जी देश के किसान हित मे काम रहे हैं। जहाँ तक राकेश टिकेत जी का स्वाल है उन्हें कुछ भी बिना सोचे समझे ,कभी भी किसी भी विशेष जाति पर व्यंग्य ,टीका टिपण्णी करने से बचना चहिये।

राजकुमार भारत ने कहा कि किसान जागृति अभियान सयुक्त किसान मौर्चा विभिन्न विचारधाराओं वाला जन आदोलन शुरू हो चुका है। इस जन आदोलन में तानाशाही, भृष्टचार, बैरोजगार, कोरोना बीमारी व सभी हजारो काले जनविरोधी क़ानूनों को समाप्त करने की जरूरत है।

राजकुमार भारत ने कहा कि नये भारत के निर्माण मे संविधान मे सशोधन की बड़ी गुंजाईश महसूस हो रही है । भारत के सभी देशवासी बुद्धिजीवी वर्ग, ट्रैड यूनीयन व्यापारी, किसान, मजदूर ,छात्र, आम जनता बहुत दुखी परेशान है। बस लाईनो मे लगे रहो,फ़ाईल बनवाओ फिर उन्हें आन लाईन करवाओ कहीं इंटरनेट बंद है तो कहीं सरवर डाऊन है।

राजकुमार भारत ने कहा कि दिल्ली चलो , बहिष्कार करो,संसद और सॉंसद घेरो। तहसील स्तर व टोल टेकस पर धरने जारी रहेगे। जब तक हमारी सभी सयुक्त किसान मौर्चा की माँगे मौदी सरकार मान नहीं लेती। सभी झूटे मुक्दमे रदद कर वापिस ले सरकार।

राजकुमार भारत ने कहा कि रोजगार है नही,काम धन्धे बंद हो गये,देश के आम 85% जमाता भूख और प्यास व बीमारियों में इस्तेमाल होने वाली महँगी दवाईयॉं और इलाज के अभाव मे दम तौड़ रही है। मौदी सरकार असफल हो चुकी है। राष्ट्रीय सरकार का गठन होना चहिये। ग्राम स्वराज शहीदो के सपनो का नया भारत बनाने की जरूरत है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।