नगर परिषद में भू अधिकारी की बेटी पाणिनी बनी फ्लाइट लेफ्टिनेंट
May 28th, 2021 | Post by :- | 77 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

– गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस अस्पताल के कोविड वार्ड में बतौर मेडिकल अफसर देंगी सेवाएं

नगर परिषद बहादुरगढ़ में भू अधिकारी गोहाना निवासी नीरज शर्मा की बेटी पाणिनी का चयन भारतीय वायुसेना के मेडिकल विभाग में फ्लाइट लेफ्टिनेंट के पद हुआ है। कोरोना महामारी को देखते गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस स्थित 200 बेड कोविड अस्पताल में उनकी ड्यूटी लगाई गई है। पाणिनी ने ड्यूटी ज्वाइन भी कर ली है। शुक्रवार को ही गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस में आयोजित समारोह में पाणिनी को फ्लाइट लेफ्टिनेंट पद पर कमीशन किया गया। पाणिनी शुरू से ही सेना में डॉक्टर बनना चाहती थी। अपने परदादा सूबेदार मंगलसेन की तरह वह फौज में सेवाएं देना चाहती थी। पाणिनी के दो ताऊ भी फौज से जेसीओ रैंक से रिटायर हैं। उनके फुफेरे भाई सचिन शर्मा भी आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल हैं। ऐसे में सेना में जाने के लिए पाणिनी को परिवार से काफी मदद मिली। चेन्नई की ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी में लेफ्टिनेंट कर्नल सचिन शर्मा ने पाणिनी को सेना में जाने के लिए काफी प्रोत्साहित किया। पाणिनी ने स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद मार्च 2020 में भोपाल आरकेडीएफ मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की थी। इसके बाद एसएससी के तहत सेना में मेडिकल अफसर पद के लिए आवेदन किया था। यहां पर अगस्त 2020 में पाणिनी का चयन हो गया था और अब उनकी नियुक्ति भारतीय वायु सेना के मेडिकल विभाग में फ्लाइट लेफ्टिनेंट के रूप में हुई। पाणिनी के पिता नगर परिषद बहादुरगढ़ में भू अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि पाणिनी शुरू से ही काफी होशियार रही है। वह हमेशा सेना में डॉक्टर बनना चाहती थी। इसके लिए उसने कड़ी मेहनत करके एमबीबीएस की पढ़ाई की। पाणिनी ने अब गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस स्थित कोविड अस्पताल में ज्वाइन किया है। यहां पर वे कोरोना संक्रमिताें का इलाज करेंगी। पाणिनी की मां बनिता वशिष्ठ दिल्ली में अध्यापिका हैं। फिलहाल पाणिनी का परिवार दिल्ली के नांगलोई में रहता है। पाणिनी का छोटा भाई उत्कर्ष भी एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।