कोरोना पीड़ितों की मदद को घर-बार भूले उप-प्रधान विकास
May 27th, 2021 | Post by :- | 72 Views

धर्मशाला, 27 मई: कोरोना महामारी के घातक संक्रामक दौर में जहॉं लोग अपने कार्यों के लिए भी घर से बाहर निकलने से पहले कई बार सोचते हैं; वहीं विकास खण्ड, इंदौरा की ग्राम पंचायत लोधवां के उप-प्रधान विकास चम्बियाल कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए अपना घर-बार भूलकर आगे आए हैं। आजकल उन्होंने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए अपने निजी स्कूल के कमरे में अपना डेरा जमाया है। ग़ौरतलब है कि आजकल तमाम शिक्षण संस्थान कोरोना के चलते बंद हैं। अपने सेवाभाव, कर्तव्यपरायणता और सहज सुलभता आदि गुणों के चलते उन्होंने अन्य जन प्रतिनिधियों तथा लोगों के सामने मिसाल क़ायम की है।

विकास अपने कार्यक्षेत्र में न केवल कोरोना से अपना जीवन हारने वाले लोगों का निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार स्वयं कर रहे हैंय  बल्कि उनके परिजनों को गृह संगरोध में सुरक्षित रहने के लिए जागरूक भी कर रहे हैं। वह मृतकों के परिजनों को उनके घरों मंे हर ज़रूरी सामान मुहैया करवा रहे हैं। विकास उनके राशन कार्ड की वाट्सअप पर पिक मंगवाने के बाद उचित मूल्य की दुकानों ;डिपूद्ध से राशन ख़रीद कर, उनके घर पहुँचा रहे हैं। जो लोग कोरोना से ग्रस्त होने के बाद डर और अवसाद से गुज़र रहे हैं, वह उनकी काउंसिलिंग भी कर रहे हैं।

मरीज़ों का हौंसला बढ़ाने के अलावा विकास लोगों में मास्क, सेनेटाइज़र आदि भी बांट रहे हैं। जो व्यक्ति कोरोना के लक्षण महसूस कर रहे हैं, वह उनको सही चिकित्सीय सलाह उपलब्ध करवाने के बाद अपने घर में सही तरीक़े से संगरोध करने और सही दवाइयॉं लेने के लिए जागरूक कर रहे हैं। विकास लोगों के लिए इतने फ़िक्ऱमंद हैं कि आजकल वह अपने घर भी नहीं जा रहे हैं।

उनके इन तमाम कार्यों की प्र्यंसा करते हुए इन्दौरा के एसडीएम, इंदौरा सौमिल गौतम उनकी हरसंभव सहायता  कर रहे हैं। विकास, कोरोना कर्फ्यू के दौरान जिन लोगांे को किसी प्रकार की दिक़्क़त आ रही है, उनकी भी हर प्रकार से मदद कर रहे हैं ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।