युवाओं को रोजगार के लिए मिलेगा आनलाइन निशुल्क प्रशिक्षण
May 27th, 2021 | Post by :- | 213 Views

धर्मशाला, 27 मई- कोविड कर्फ्यू में रोजगार की तलाश कर रहे युवाओं के सपनों को पूरा करने के लिए सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्व है तथा इसी कड़ी में आनलाइन रोजगार प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आरंभ किए गए हैं ताकि युवाओं को सरकारी तथा निजी क्षेत्र में रोजगार के संपूर्ण अवसर मिल सकें। इससे पहले देहरा, ज्वालाजी, कांगड़ा में गत दो माह में पांच सौ के करीब युवाओं के लिए निजी क्षेत्र में रोजगार के अवसर प्रदान किए जा चुके हैं।

अब कोरोना कर्फ्यू के दौरान टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज ने क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय, धर्मशाला के साथ मिलकर युवाओं के लिए रोजगार प्रशिक्षण कार्यक्रम आरम्भ किया है। जिला रोजगार अधिकारी, शम्मी शर्मा ने बतया कि इस कार्यक्रम के माध्यम से छात्रों को नौकरी से सम्बन्धित प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में इंटरव्यू, रिज्यूम और बेसिक कॉन्पिटिटिव एग्जाम सम्बन्धित ट्रेनिंग करवाई जाएगी ताकि युवा नौकरी पाने के लिए सक्षम हो सकें। यह प्रशिक्षण निःशुल्क दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में कोई भी गैर इंजीनियर छात्र या स्नातक आवेदन कर सकते हैं। 28 वर्ष से कम आयु वाले जिनकी पारिवारिक आय 6 लाख रुपए सालाना से कम है और जो आर्ट्स, साइंस या कॉमर्स के फाइनल ईयर में हैं अथवा 2020 में स्नातक हो चुके हैं, वह इस कार्यक्रम के लिए आवेदन कर सकते हैं। इच्छुक आवेदकों के पास इंटरनेट व स्मार्टफोन, लैपटॉप या कम्प्यूटर होना चाहिए क्योंकि यह प्रशिक्षण ऑनलाइन दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि 40 प्रतिशत एडमिशन अनुसूचित जाति व जनजाति के लिए आरक्षित है। उन्होंने बताया कि इच्छुक आवेदक क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय धर्मशाला को सम्पर्क करें अथवा यंग प्रोफेशनल को 29 मई, 2021 से पूर्व मैसेज के द्वारा 7876636421 पर सम्पर्क कर सकते हैं। जिला रोजगार अधिकारी ने बताया कि युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आरंभ किए गए हैं तथा जिला रोजगार कार्यालय के माध्यम से युवाओं को जागरूक भी किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि कौशल विकास योजना के तहत जिन अभ्यर्थियों ने फार्म जमा करवा दिए हैं उनको भत्ता भी दिया जा रहा है ताकि कोरोना के इस काल में आनलाइन प्रशिक्षण प्राप्त करके युवा अपना रोजगार आरंभ कर सकें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।