पीलीभीत : आपदा में अवसर तलाश कर पुण्य कमा रहे नीरज रस्तोगी
May 25th, 2021 | Post by :- | 154 Views

👉 किसानों की टके भाव बिकने वाली फसल के उचित दाम भुगतान कर उनकी बर्बाद फसल खरीद कर किसानों को दी खुशी

👉  पालेजी फसल तरबूज, खरबूज सहित सब्जियां खरीद कर गौशालाओं में भूख से व्याकुल गौ माता को दिया आहार 

👉 जरूरत मन्दों तक भोजन राशन पहुचाने के साथ साथ पशुओं का दे रहे ध्यान

पीलीभीत, ब्यूरो। आपने आपदा में अवसर तलाशने की कहावत अक्सर आपने सुनी होंगी आज हम ऐसे व्यक्ति के व्यक्तित्व की कहानी से रूबरू कराने जा रहे जिसने आपदा में अवसर तलाश कर परम देव कृपा का अंनत पुण्य कमा लिया । जी हां एक तरफ पूरे देश मे महा मारी के प्रकोप से दुनिया जूझ रही है, तो कहीं पहाड़ों पर हुई बरसात तूफान से किसानो को भारी नुकसान पहुँचा है। ऐसे में पीलीभीत के व्यपारी युवा समाजसेवी नीरज रस्तोगी ने ऐसा कुछ किया जिससे उन्हें 33 कोटो देवताओं सहित देश के अन्नदाता की सेवा का पुण्य प्राप्त किया है। दरअसल बीते दिनों लगातार हो रही बारिश से नदियों किनारे की पालेज (फसल) बुरी तरह से नष्ट हो गई और कई स्थानों पर फसलें बहाव में बर्बाद हो गई, ऐसे में नीरज रस्तोगी ने उन किसानो की बर्बाद हुई फसल के अच्छे दाम देकर न केवल उन किसानो के चेहरे पर खुशी दी है बल्कि जिले में भूख प्यास से महामारी काल की मार झेल रही सैकड़ों गायों के लिए खाने का प्रबंध कर गौशालाओ में तरबूज, खरबूज सहित तमाम सब्जियों की फसल पहुँचा कर उन गायों के लिए भोजन आहार की व्यवस्था की है । यही नहीं  गौशालाओ के साथ साथ सड़को पर घूमने वाले गौवंशीय पशुओं सहित तमाम पशुओँ के लिए भोजन उपलब्ध करवा रहे है । साथ ही जरुरत मंद लोगो तक राषन देने का भी काम नीरज रस्तोगी कर रहे है । जिसको लेकर शोषल मीडिया पर ऐसे दानवीर नीरज की जमकर तारीफ मिल रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।