कोरोना काल में वरदान साबित हो रहे कॉमन सर्विस सेंटर (सी.एस.सी.)।
May 25th, 2021 | Post by :- | 144 Views

करनाल, हरियाणा (रजत शर्मा)। कोरोना काल में जहां एक ओर सरकार और प्रशासन मिलकर जनता को कोविड से हो रही परेशानियों को दूर करने में दिन-रात एक कर रहें हैं, वहीं दूसरी ओर कॉमन सर्विस सेंटर यानि सी.एस.सी. हजारों लोगों को सस्ती और सुलभ सेवाएं देकर वरदान साबित हो रहे हैं।

सी.एस.सी. की मॉनिटरिंग सम्भाल रहे जिला प्रबंधक ने बताया कि चालू मास मई में सरकार की सामाजिक पैंशन योजना से जुड़े 13 हजार 268 लाभार्थियों ने डीजी पे के माध्यम से करीब साढ़े 3 करोड़ रूपये की राशि सी.एस.सी. से प्राप्त की, इससे उनकी आर्थिक जरूरतें पूरी हुई और उन्हें शहर या बैंक जाने की जरूरत नहीं पड़ी।

दूसरी ओर जिला के ही करीब 100 लोगों ने सी.एस.सी. में जाकर अपने बैंक खाते खुलवाए और 10 लोगों ने बैंको से ऋण प्राप्त किया। यही नहीं इसी मास में 14 हजार 143 उपभोक्ताओं ने सी.एस.सी. जाकर बिजली के बिल की राशि अदा की, उन्हें बिजली निगम के किसी काउंटर पर नहीं जाना पड़ा।

जिला प्रबंधक ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए 18 प्लस के युवाओं में वैक्सीन की डोज़ लेने की होड़ लगी है और रजिस्टे्रशन के बाद ऐसे युवा जिला के भिन्न-भिन्न जगहों पर बनाए गए सेंटरों में डोज़ लेकर राहत महसूस कर रहे हैं, क्योंकि अब तक वैक्सीन को लेकर हो रहे परिणामों में यह बात सामने निकलकर आई है कि वैक्सीन की एक या दोनो डोज़ लगवाने वालों में कोरोना का खतरा कम हो जाता है।

वैक्सीन की डोज़ लेने के बाद भी यदि कोई व्यक्ति संक्रमित हो जाए, तो उसकी जान बच सकती है। इस तथ्य को देखते हुए मई में जिला के 2500 से ज्यादा 18 प्लस आयु वर्ग के युवाओं ने अपने नजदीकी सी.एस.सी. में जाकर कोविड वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया।

सी.एस.सी. से दी जा रही सुविधाओं/सेवाओं की बात करते उन्होंने बताया कि जिला के कॉमन सर्विस सेंटरों में वैक्सीनेशन रजिस्टे्रशन, बैंकिंग सेवाएं, पैंशन निकासी, बिजली, पानी व सीवरेज बिल ऑनलाईन भरने की सुविधा के अतिरिक्त, गाड़ी व बाईक का बीमा, किस्त जमा करवाने की सुविधा, नई गाड़ी के लिए बुकिंग की सुविधा, मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना सहित अन्य सरकारी योजनाओं की सुविधा, किसान सम्मान निधि के पंजीकरण, प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना, व्यापारी मानधन योजना, श्रम योगी मानधन योजना तथा श्रमिकों के पंजीकरण की सुविधाएं दी जा रही हैं।

लोग बेझिझक होकर जरूरी दस्तावेजों के साथ अपने नजदीक कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर इन सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में तो कॉमन सर्विस सेंटर एक वरदान के रूप में साबित हुए हैं। इसे लेकर निवर्तमान सरपंच गांवो में लोगों को ज्यादा से ज्यादा पैंशन निकासी के लिए सी.एस.सी. में जाने के लिए जागरूक कर सकते हैं। सरकार की मंशा भी यही है कि लोगों को इस तरह के कामो के लिए शहर में ना जाना पड़े, ताकि उनके समय और धन की बचत हो।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।