मंडी में अक्तूबर में होगा छोटी काशी महोत्सव।
September 23rd, 2019 | Post by :- | 122 Views

मंडी,(मोहन शर्मा):- उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के निर्देशानुसार मंडी शहर में अक्तूबर महीने में छोटी काशी महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। 4 से 6 अक्टूबर तक चलने वाले इस उत्सव में लोगों को मंडी के समृद्ध इतिहास, कला एवं संस्कृति के विविध पहलुओं से रूबरू करवाने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों की श्रृंखला आयोजित की जाएगी। ऋग्वेद ठाकुर ने गुरुवार को यहां छोटी काशी महोत्सव के आयोजन का खाका बनाने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों एवं सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।
उपायुक्त ने कहा कि छोटी काशी के नाम से विख्यात मंडी में इतिहास, धर्म, कला व संस्कृति के विविध आख्यान भरे पड़े हैं। देश-विदेश के पर्यटकों के साथ साथ स्थानीय लोगों को भी अपने समृद्ध इतिहास, कला-संस्कृति से अवगत करवाने एवं इसके संरक्षण व संवर्धन के लिए छोटी काशी महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। तीन दिन के इस उत्सव में शहर में अलग अगल कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इसके जरिए पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया जाएगा।
छोटी काशी महोत्सव में होंगे ये कार्यक्रम
ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि छोटी काशी महोत्सव का आगाज भव्य कार्निवल के साथ किया जाएगा। उत्सव में अलग-अलग कलाओं से जोड़ने के उद्देश्य कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इसमें विभिन्न विभागों के अलावा भारतीय सांस्कृतिक निधि (इनटेक) के मंडी चैप्टर सहित मंडी की अन्य सामाजिक संस्थाओं का सहयोग भी लिया जाएगा।
इसके तहत मंडी और सुंदरनगर में छोटी काशी की थीम पर कलाकारों द्वारा मुख्य दीवारों पर पेंटिग्स की जाएंगी। इंद्रा मार्किट की छत पर पारंपरिक पहनावे का फैशन शो ओर फूड फेस्टीवल का भी आयोजन किया जाएगा। इसके अलावा ‘लैप्स इन द स्काई’ व पतंगबाजी के आयोजन किए जाएंगे। उत्सव के दौरान इंद्रा मार्केट परिसर में तीन सांस्कृतिक संध्याएं आयोजित की जाएंगी। घंटाघर पर लेजर लाईट व साउंड शो के जरिए छोटी काशी का इतिहास दिखाया जाएगा।
उत्सव में लिटरेरी कार्यक्रमों की श्रृंखला में मंडी कलम व चित्रांे की प्रदर्शनी, लोकगीत व कलाओं पर सेमीनार आयोजित किए जाएंगे।
इसके अलावा कवि सम्मेलन, बुक फेयर, लोक वाद्य कार्यक्रम के अलावा हेरिटेज वॉक का आयोजन भी किया जाएगा। स्कूलों में कहानी पाठ जैसे कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
कार्यक्रम के समापन वाले दिन 6 अक्तूबर को शाम को भव्य ब्यास आरती का आयोजन होगा। उत्सव के दौरान मंडी जिले के पर्यटन सर्किटों का प्रचार प्रसार भी किया जाएगा ।
इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग, अतिरिक्त जिलादंडाधिकारी श्रवण मांटा, जिला पर्यटन विकास अधिकारी पंकज शर्मा, जिला भाषा अधिकारी रेवती सैनी, भारतीय सांस्कृतिक निधि संस्था के मंडी चैप्टर के संयोजक नरेश मल्होत्रा, सह संयोजक अनिल शर्मा, हिमाचल दर्शन आर्ट गैलरी के संस्थापक एवं वरिष्ठ पत्रकार बीरबल शर्मा, प्रख्यात साहित्यकार व वरिष्ठ पत्रकार मुरारी शर्मा, प्रसिद्ध मंडयाली कवि विनोद बहल, मंडी कलम के प्रख्यात चित्रकार राकेश शर्मा सहित अन्य विभागों के अधिकारी तथा संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।