जमीनी विवाद को लेकर प्रापर्टी डीलर की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या
May 25th, 2021 | Post by :- | 193 Views

प्रयागराज। थरवई थाना क्षेत्र के धरमपुर घुरवा गांव में सोमवार को दिन में एक प्रापर्टी डीलर को लाठी-डंडे और सरिया से पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया, जबकि उसके बेटे और एक रिश्तेदार जान बचाकर भाग निकले। घटना के पीछे भूमि विवाद का मामला सामने आया है। धरमपुर घुरवा निवासी राजबहादुर यादव की ससुराल सोनौटी में सरजू प्रसाद के यहां है। सरजू प्रसाद का एक बेटा है, जो दिमागी रूप से कमजोर है।

इसलिए सरजू प्रसाद ने अपने दामाद राज बहादुर को दो बीघा जमीन देखरेख के लिए दे दी थी। राज बहादुर ससुर को एक माह पहले अपने घर ले आया था, तब से वह यही था। सोमवार सुबह करीब दस बजे झूंसी के शेरडीह गांव के रहने वाले प्रापर्टी डीलर रामअचल यादव (50) अपने बेटे सुंदरम यादव व रिश्तेदार धर्मराज यादव के साथ धरमपुर घुरवा पहुंचे। यहां सौनोटी की दो बीघा जमीन को लेकर बातचीत शुरू ही हुई थी कि अचानक राज बहादुर, दिलीप, कमलेश, दिनेश व शिव बहादुर ने रामअचल पर लाठी-डंडा व सरिया से हमला बोल दिया। सुंदरम और धर्मराज ने बचाने की कोशिश की तो उनको भी दौड़ा लिया। इधर जमीन पर गिरे रामअचल को कमरे में घसीट ले गए और जमकर पीटने के बाद बाहर फेंककर भाग निकले। सुंदरम और धर्मराज ने खून से लथपथ रामअचल को शहर स्थित एक निजी अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद शव को लेकर दोनों शेरडीह चले गए। सूचना पाकर झूंसी, सरायइनायत और थरवई पुलिस शेरडीह पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मृतक के पुत्र सुंदरम ने पुलिस को तहरीर देते हुए बताया कि भूमि की पुरानी विवाद आरोपितों से थी। वह अपने पिता व रिश्तेदार के साथ मोटरसाइकिल से भूसा लेने जा रहा था। तभी राजबहादुर आदि ने हमला कर पिता रामअचल को मौत के घाट उतार दिया। थाना प्रभारी कुशलपाल सिंह का कहना है कि भूमि विवाद को लेकर घटना हुई है। तहरीर के आधार पर पांच के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आरोपितों की गिरफ्तारी की कोशिश की जा रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।