विधायक के भाई हरी नायर के निधन पर मुख्यमंत्री व केंद्रीय राज्य मंत्री ने फोन पर जताया शोक
May 20th, 2021 | Post by :- | 214 Views

होडल, (मधुसूदन): पलवल से विधायक दीपक मंगला ने कहा है कि आज देश प्रदेश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप चल रहा है, जिससे हमें बचाव करने की जरूरत है। सरकार की हिदायतों और सावधानी से ही कोरोना संक्रमण पर काबू पाया जा सकता है। मंगला ने कहा कि जिन महिला पुरुषों का कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से निधन हुआ है,भगवान उनकी आत्मा को शांति दें और अपने चरणों में स्थान दें तथा उनके परिवार को इस दुख का सहने की शक्ति प्रदान करें। मंगला मंगलवार को स्थानीय विधायक जगदीश नायर के निवास पर उनके भाई हरीनायर के निधन पर शोक व्यक्त करने पहुंचे थे। विधायक दीपक मंगला के साथ हथीन से विधायक प्रवीण डागर,भाजपा जिला अध्यक्ष चरण सिंह तेवतिया,जे जे पी जिला अध्यक्ष सुरेंद्र सौरोत,मोनू कालडा,अधिवक्ता भूप सिंह सौरोत,डीएसपी दिनेश कुमार,थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह,राजेश कुमार सहित क्षेत्र के लोगों ने हरीनायर के निधन पर शोक व्यक्त किया। हरीनायर का कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से निधन हो गया था। स्व. हरीनायर ने हरियाणा पुलिस में बतौर इंस्पेक्टर गुडगांव में अपनी डयूटी निभाई। उन्होंने भूमि विकास बैंक के डायरेकटर के पद पर रहते हुए समाजसेवा का कार्य किया। इसके बाद हरीनायर ने अपने भाई विधायक जगदीश नायर के साथ सक्रिय राजनीति में रहते हुए समाज की सेवा की। दीपक मंगला ने शोक व्यक्त करते हुए विधायक जगदीश नायर और उनके परिवार को ढांडस बंधाया और कहा कि ईश्वर की इच्छा के आगे किसी का वस नहीं चलता है। उन्होंने हरीनायर के निधन को नायर परिवार के लिए अपूर्णिय क्षति बताया। विधायक जगदीश नायर ने भगवान से विधानसभा क्षेत्र में कोरोना की चपेट में आए सभी मृृृतकों की आत्मा की शांति और उनके परिवार को इस संकट को सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। उन्होंने क्षेत्र के लोगों से आह्वान किया है कि कोई भी व्यक्ति बगैर मास्क और बेवजह अपने घर से बाहर ना निकले,सेनेटाईजर,सोशल डिस्टेंसिंग और सरकार की हिदायतों का पालन करें। उधर विधायक जगदीश नायर के भाई हरीनायर के निधन पर प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल,केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, पूर्व सिचाई मंत्री चौ. हर्षकुमार, पूर्व विधायक करन सिंह दलाल,अभय सिंह चौटाला सहित कई अन्य राजनेताओं ने फोन पर शोक जताया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।