विधायक उदयभान ने ली व्यापारियों व दुकानदारों की बैठक |
September 22nd, 2019 | Post by :- | 32 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :-  होडल विधानसभा के कांग्रेस विधायक उदयभान ने कहा कि बीजेपी सरकार ने व्यापारियों को धोखा देने में कोई कसर नहीं छोडी है। व्यापारियों पर जीएसटी के नाम पर तरह-तरह के टैक्स लगाकर व्यापारियों की जेब काटने का काम किया है। आज बाजार में इनती मंदी है कि व्यापारी अपने आप को ठगा महसूस कर रहे हैं। उदयभान रविवार को श्री दिगम्बर जैन धर्मशाला में आयोजित शहर के व्यापारियों व दुकानदारों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक की अध्यक्षता पूर्व प्रधान सुनील मित्तल ने की।
जैन धर्मशाला में आयोजित बैठक में विधायक उदयभान ने कहा कि बीजेपी सरकार ने लोगों से झूठे वायदे कर वोट बटारने का कार्य किया है। आज हरियाणा के लोग अपने आप को पूरी तरह से ठगा महसूस कर रहे हैं। इसके अलावा व्यापारियों पर तरह-तरह के टैक्स थोपकर उनके साथ विश्वास घात किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार में व्यापारी व दुकानदार इतने दुखी हो चुके हैं कि उन्हें दोबारा से कांग्रेस का राज ध्यान आने लगा है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी व्यपारियों के सुख-दुख में हमेशा उनके साथ रही और व्यापारियों की हर मदद करी। उन्होंने कहा कि आज बीजेपी सरकार में सभी वर्ग के लोग दुखी है। चुनावों से पहले बीजेपी सरकार ने जो जनता से वायदे किए थे वह उनकर बिल्कुल भी खरा नहीं उतरी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पूरी तरह से बौखला गए हैं अपने ही पार्टी के एक नेता से गर्दन काटने की बात कह रहे हैं और दूसरी ओर अपना हक की शान्ति पूर्वक मांग कर रहे अध्यापकों पर लाठी भांजने का काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता के सामने बीजेपी घिनौना चेहरा आ चुका है और आगामी विधानसभा चुनावों में प्रदेश की जनता इसका बदला अवश्य लेगी। इस मौके पर व्यापारी व दुकानदारों ने विधायक उदयभान को अपना पूरा समर्थन देने का विश्वास दिलाया। इस मौके पर पूर्व प्रधान डालचंद गुप्ता, राजकपूर बंसल, हरीचंद गर्ग, कैलाश गर्ग, श्याम सुन्दर मंगला, बवली उर्फ शिवकुमार परदेशी, मुरारी लाल गोयल, ओमप्रकाश अदलक्खा, डा. राजेश जैन, कमल खन्ना, राजेश गर्ग, अनिल सिंगला, शिवकुमार गर्ग, बिजेंद्र जैन, नरेश जैन के अलावा सैकडों दुकानदार व व्यापारी मैजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।