भाजपा के युवा नेता साहिल सुधा के नेतृत्व में एसपी को सौंपा ज्ञापन
May 17th, 2021 | Post by :- | 108 Views
कुरुक्षेत्र 17 मई।    आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य स्कीम में विधायक सुभाष सुधा व नगर परिषद की अध्यक्षा उमा सुधा का नाम सूचि में शामिल किए जाने वाले मामले की जांच के लिए भाजपा के युवा नेता साहिल सुधा के नेतृत्व में एक ज्ञापन पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग को सौंपा गया है। इस ज्ञापन के बाद पुलिस अधीक्षक की तरफ से डीएसपी के नेतृत्व में एक एसआईटी का गठन किया गया है ताकि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जा सके और पूरे मामले की सच्चाई लोगों के समक्ष आ सके।
विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जनआरोग्य स्कीम की सूचि में उनका व उनकी धर्मपत्नी उमा सुधा का नाम शामिल किया गया है। इस विषय के सम्बंध में सोशल मीडिया के माध्यम से ही उन्हें जानकारी मिले और वे इस जानकारी से वे खुद आश्चार्यचकित थे कि उनका नाम सूचि में कैसे शामिल हो गया। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग से सम्पर्क किया गया और स्वास्थ्य विभाग की तरफ से भी प्रमाण पत्र दिया गया कि स्कीम के लिए ना आवेदन किया गया और ना ही इसका कोई लाभ लिया गया। उन्होंने कहा कि इस मामले को विपक्षी दलों की इशारे पर तूल देने का काम किया जा रहा है। इसके लिए पुलिस अधीक्षक ने डीएसपी के नेतृत्व में एसआईटी गठित की है जो जांच करेेगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
भाजपा के युवा नेता साहिल सुधा, प्रेमपाल बेनिवाल, परमजीत सैनी, सौरव दत्त शर्मा, सशांक अग्रवाल, हिमांशु अग्रवाल ने सोमवार को पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि उनके पिता सुभाष सुधा 2014 से थानेसर विधानसभा क्षेत्र से विधायक है और उनकी माता कई वर्षों से नगरपरिषद की अध्यक्षा है 13 मई 2021 को सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी प्राप्त हुई कि उनकी माता-पिता का नाम आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य स्कीम की सूचि में दर्शाया गया है जबकि उन्होंने इस स्कीम के लिए स्वास्थ्य विभाग में किसी भी प्रकार का आवेदन नहीं किया है और ना ही इस स्कीम का लाभ प्राप्त किया है। वर्ष 2012 से उनका परिवार का मेडिकल बीमा स्टार हैल्थ इंशोरेंश कम्पनी द्वारा करवाया गया हैै और इस कम्पनी से ही मेडिकल बिल क्लेम कर रहे है। उनके माता पिता की झूठी खबर चलाकर सोशल मीडिया और इलैक्ट्रोनिक्स मीडिया पर छवि को खराब करने का काम किया जा रहा है।  उन्होंने पुलिस अधीक्षक हिमांशु को ज्ञापन सौंपते हुए इसकी निष्पक्ष रूप से जांच करने के लिए मांग की है तथा दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की भी मांग की है ताकि सही तथ्य लोगों के सामने आएं।
https://www.youtube.com/watch?v=TpUk043Nljo

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।