दुःखद समाचार : कोरोना फ्रंट लाइन वर्कर एएसआई नरेश कुमार हारे जंग
May 14th, 2021 | Post by :- | 243 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

कोरोना से लड़ते हुए दिल्ली पंजाबी बाग स्थित एमएसजी हॉस्पिटल में ली आखिरी सांस

बहादुरगढ़। कोविड-19 यानी कोरोना वायरस के संक्रमण से एक और कोरोना फ्रंट लाइन वर्कर ने अपनी जान गवां दी। बहादुरगढ़ के कसार गांव निवासी नरेश कुमार दिल्ली पुलिस में बतौर एएसआई कार्यरत्त थे। पिछले साल से ही वे दिल्ली में कोरोना फ्रंट लाइन वर्कर के तौर पर कार्य कर रहे थे। कोरोना की फस्ट वेव में बेहद मेहनत और लगन के साथ उन्होंने अपनी ड्यूटी निभाई। फिलहाल वे दिल्ली के प्रेम नगर थाने में तैनात थे। जहां ड्यूटी के दौरान ही वे अप्रेल माह के अंत मे कोरोना से संक्रमित हो गए। उन्हें उपचार कर लिए दिल्ली के पंजाबी बाग स्थित एमएसजी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था। लेकिन वे वीरवार की देर शाम कोरोना से जंग हर गए। कोविड प्रोटोकॉल के तहत आज उनका अंतिम संस्कार किया गया।

एएसआई नरेश कुमार के भाई विनोद ने बताया कि नरेश 1988 में दिल्ली पुलिस में भर्ती हुए थे। वे अपने पीछे अपनी पत्नी और तीन बेटे छोड़ गए हैं। नरेश कुमार बेहद ईमानदार पुलिस कर्मी थे। उनकी फाइनेंशियल कंडीशन भी ज्यादा अच्छी नहीं है और बेटे भी अभी पढ़ाई कर रहे हैं। नरेश के परिवार और गांव के साथ पूरे देश को उन पर गर्व है। कोरोना के बढ़ते आंकड़ों के बीच कोरोना योद्धा भी अपनी जान जीवन रहे हैं। इस भयंकर वैश्विक महामारी के बचने के लिए ही लॉक डाउन लगाया गया है। हमे जरूरत है कि अपने घरों से बाहर ना निकलें और सोशल डिस्टनसिंग के नियमों की पालना करें। तभी हम कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ सकते हैं।

Photo – एएसआई नरेश कुमार का फाइल फोटो 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।