विधानसभा चुनाव 2019 : जिला में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू : संजय जून
September 21st, 2019 | Post by :- | 97 Views

झज्जर/बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही जिला में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त संजय जून ने जानकारी देते हुए बताया कि आदर्श आचार संहिता की पालना के लिए जिला में निगरानी टीमों का गठन कर दिया गया है। चुनाव आचार संहिता की अवहेलना की शिकायत मिलने पर नियमानुसार कानूनन कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
जिला निवार्चन अधिकारी ने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के घोषित कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि चुनाव के लिए अधिसूचना 27  सितंबर को जारी होगी, नामांकन जमा कराने की अंतिम तिथि चार अक्टूबर, छंटनी पांच अक्टूबर, नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि सात अक्टूबर, मतदान 21 अक्टूबर तथा मतों की गिनती 24 अक्टूबर को की जाएगी।
इससे पहले हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जिला में निर्वाचन संबंधी कार्यों की समीक्षा करते हुए आगामी कार्यक्रम को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने चुनावी स्टॉफ का प्रशिक्षण, पोलिंग बूथों की स्थिति, सुविधा एप , सी-विजिल एप शुरू करने, शिकायत व हेल्प डेस्क शुरू करने, स्वीम कार्यक्रम के तहत मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने पेड न्यूज की निगरानी रखने, एसएसटी टीमों की तुरंत प्रभाव से तैनाती करने आदि की समीक्षा करते हुए जिला प्रशासन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उपायुक्त संजय जून के अतिरिक्त इस अवसर पर एसएसपी अशोक कुमार, बेरी के एसडीएम डा. राहुल नरवाल, बहादुरगढ़ के एसडीएम तरूण पावरिया, झज्जर की एसडीएम शिखा, बादली के एसडीएम विशाल कुमार भी उपस्थित रहे।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि  विधानसभा चुनाव 2019 को हरियाणा का महोत्सव की संज्ञा दी गई है। चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशानुसार चुनाव को निष्पक्ष, पारदर्शिता व शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करवाना है। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा पहले से ही तैयारियां की जा रही है। उन्होंने कहा कि चुनाव को पारदर्शिता के साथ बेहतर ढंग से सम्पन्न करवाने के लिए विभिन्न प्रकार की टीमों का गठन कर दिया गया है। उपायुक्त ने कहा कि जिला झज्जर में चार विधानसभा क्षेत्र नामत: झज्जर, बहादुरगढ़, बादली और बेरी में चुनाव संबंधी सभी तैयारियां आरंभ हो चुकी है।
मतदाताओं को किया जाएगा मतदान के लिए प्रेरित
उपायुक्त ने बताया कि आदर्श आचार संहिता की उल्लंघना न हो, शत प्रतिशत मतदान हो और चुनाव को बेहतर ढंग से सम्पन्न करवाया जा सके इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। विधान सभा क्षेत्रवार प्रचार वाहन भेजे गए हैं। प्रचार वाहन आमजन को ईवीएम और वीवीपैट की जानकारी देने के साथ-साथ मतदाताओं को मतदान करने के प्रति भी प्रेरित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मतदाताओं को मतदान करने के लिए भी जागरूक किया जाएगा। प्री-जाईडिंग ऑफिसरों को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा।  राजनीतिक दल या उम्मीदवार रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं करेंगे, जिस पर पूर्णतया:पाबंदी रहेगी। लाउडस्पीकार बजाने के लिए प्रशासन से अनुमति लेना जरूरी है।
प्रिंटर्स को अपना व पता लिखना जरूरी
जिला निर्वाचन अधिकारी ने विधानसभा चुनाव के दौरान प्रकाशित होने वाले पंपलेट, पोस्टर, हैंडबिल व अन्य प्रचार सामग्री को लेकर भी निर्देश देते हुए कहा कि सभी प्रिंटर्स व प्रकाशकों के लिए जनप्रतिनिधि अधिनियम, 1951 की धारा 127 ए के तहत प्रकाशित सामग्री पर अपना नाम व पता अंकित अनिवार्य होगा। इसका उल्लंघन करने वाले प्रिंटिग प्रेस मालिक के खिलाफ संबंधित अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
सरकारी व अद्र्घसरकारी पर प्रचार सामग्री लगाना अवैध
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सरकारी व अद्र्घसरकारी भवनों, सार्वजनिक स्थानों व  अन्य किसी प्रकार की संपत्ति पर प्रचार सामग्री चस्पा करना डिफेसमेंट ऑफ प्रॉपर्टी एक्ट और आदर्श आचार संहिता की अवहेलना माना जाएगा। उन्होंने कहा कि भू स्वामी की अनुमति के बिना प्राइवेट संपत्ति पर भी किसी प्रकार की चुनाव प्रचार सामग्री चस्पा करना गैर कानूनी की श्रेणी माना जाएगा। उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों को आदर्श आचार संहिता लागू होते ही सभी प्रकार की प्रचार सामग्री हटाने के निर्देश दिए  हैं। उन्होंने कहा कि संबधित अधिकारी सभी  सरकारी व अद्र्घसरकारी परिसरों व संपत्तियों से तुरंत प्रभाव से प्रचार सामग्री हटवाएं।
निगरानी के लिए  विभिन्न टीमें गठित
संजय जून ने  कहा कि आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों की ड्यूटियां लगा दी गई है। आदर्श आचार संहिता की उल्लंघना करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ नियमानुसार कानूनन कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि स्टेटिक, मोबाइल और विडियो सर्विलेंस टीमें कड़ी निगरानी रखेगी। राजनीतिक दलों द्वारा लोगों को पैसों के लेन-देन, अन्य सामान वितरण आदि अन्य आयोजित होने वाले कार्यक्रमों पर निगरानी रखेगी। उन्होंने बताया कि चुनाव से संबंधित  किसी भी प्रकार की जानकारी या समस्याओं के निवारण के लिए 1950 हैल्पलाईन नंबर जारी किया गया है।
पोलिंग स्टाफ को प्रशिक्षण देने के निर्देश
उपायुक्त संजय जून ने सभी रिटर्निंग अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि मतदान प्रक्रिया में तैनात होने अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाए।  प्रशिक्षण प्रक्रिया सभी नियुक्त अधिकारियों व कर्मचारियों के  लिए अनिवार्य होगी।

——————-
कैप्शन : झज्जर में लघु सचिवालय स्थित वीडियो कांफ्रेंस कक्ष में सीईओ इलेक्शन की वीडियो कांफ्रेंस के दौरान उपायुक्त संजय जून, एसएसपी अशोक कुमार व अन्य अधिकारीगण।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।