संत निरंकारी मिशन की और से 50 बैड का कोविड-19 ट्रीटमेंट सैंटर मानवता को समर्पित
May 9th, 2021 | Post by :- | 121 Views

पंचकूला (मनोज शर्मा) निरंकारी  सत्गुरु माता  सुदीक्षा  जी महाराज के आशीर्वाद से संत निरंकारी मिशन की और से पंचकूला के सैक्टर- 9 स्थित सन्त निरंकारी सत्संग  भवन में कोविड-19 महामारी से ग्रस्त मरीजों के इलाज के लिए 50 बैड का ‘कोविड-19 ट्रीटमेंट सेंटर’ पूरे इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ हरियाणा सरकार को उपलब्ध कराया जा रहा हैसरकार के सहयोग से इस ट्रीटमेंट सेंटर में बैड इत्यादि व मरीजों के खाने-पीने की व्यवस्था संत निरंकारी मिशन द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी।

संत निरंकारी मंडल के चंडीगढ़ जोन के जोनल इंचार्ज श्री के0 के0 कश्यप जी और सेवादल के पंचकुला क्षेत्र के क्षेत्रिय संचालक श्री करनैल सिंह जी ने बताया कि  कोविड -19 ट्रीटमेंट सैंटर में मिशन द्वारा तीनों समय के भोजन की व्यवस्था, बिजली की निरविधन सप्लाई तथा मिशन द्वारा दिल्ली से इन्फ्रास्ट्रक्चर  के लिए भेजा गया सामान उपलब्ध करवाया जाएगा। परंतु मेडीकल सुविधा, डाॅक्टर, नर्से तथा पेरामैडिकल सुविधाएं सरकार द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा।  इस सैन्टर में मिशन के द्वारा की जा रही सेवाए में सरकार के कोविड़ -19 के दिशा-निर्देशो का पुरा पालन किया जा रहा है

   इस सन्दर्भ में विधानसभा स्पीकर हरियाणा व पंचकूला से विधायक श्री ज्ञानचंद गुप्ता जी तथा संत निरंकारी मंडल के चंडीगढ़ जोन के जोनल इंचार्ज श्री के0 के0 कश्यप जी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जी से मिलकर सन्त निरंकारी सत्संग भवन में ‘कोविड-19 ट्रीटमेंट सेंटर’ बनाने की बात की थी। जिस पर हरियाणा के मुख्यमंत्री ने पंचकूला स्थित सन्त निरंकारी सत्संग भवन में ‘कोविड-19 ट्रीटमेंट सेंटर’ बनाने को स्वीकृति प्रदान की थी।

 विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता जी  ने मिशन की और से की गई इस पहल के लिए सत्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज का हृदय से धन्यवाद किया। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि सन्त निरंकारी मिशन द्वारा प्रतिवर्ष रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाता है तथा स्वच्छता अभियान भी चलाया जाता है, जो कि मानवता की सेवा के लिए सराहनीय कार्य है।

उल्लेखनीय है कि इसके अलावा भारत के सभी सत्संग भवनों को कोविड वैक्सिनेशन सैंटर बनाने का प्रस्ताव भारत सरकार को दिया गया था। जिसकी मंजूरी के उपरांत भारत के सैंकड़ों निरंकारी सत्संग भवन कोविड-19 के टीकाकरण सैंटर में परिवर्तित हो चुके हैं। साथ ही साथ संत निरंकारी मिशन के कई सत्संग भवन काफी समय से क्वारंटाईन सेंटर के रुप में, सम्बन्धित प्रशासनों को उपलब्ध कराये गए हैं।
भारत में कोविड-19 के आरंभ से ही संत निरंकारी मिशन की और से राशन-लंगर बाँटने से लेकर आर्थिक रूप में केन्द्र तथा कई राज्य सरकारों के आपातकालीन निधि कोषों में धनराशि जमा कराई गई तथा पीपीई किट्स, मास्क इत्यादि साधन उपलब्ध कराये गए और देशभर में लगातार रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जा रहा है।
मिशन की इन सभी गतिविधियों में संत निरंकारी मिशन की मानवता को समर्पित विचारधारा  की झलक प्रतिबिंबित होती है और इस कार्य की हर स्तर पर सराहना भी हो रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।