बृजमनगंज के युवा पत्रकार मुनीर आलम के निधन पर पत्रकारिता जगत में शोक की लहर
May 8th, 2021 | Post by :- | 267 Views

महराजगंज, (एके जायसवाल), नगर पंचायत बृजमनगंज कस्बा निवासी युवा पत्रकार पूर्वांचल लाइव व जनसंदेश के संवाददाता मुनीर आलम उर्फ डब्बू का शनिवार देर शाम को निधन हो गया। जिसकी सूचना से तमाम पत्रकारों व क्षेत्र के लोगों में शोक की लहर दौड़ गई। लोगों ने उनके घर पर पहुंचकर अपनी गहरी शोक संवेदनाएं व्यक्त किया।

कस्बे के युवा पत्रकार मुनीर आलम काफी लंबे समय से पत्रकारिता जगत में अपनी अलग छाप छोड़ने वालो में सुमार थे। तथा वे अपनी निर्भीक पत्रकारिता के लिए जाने जाते थे। कुछ दिनों पहले वह कोरोना पाज़िटिव हुए और उन्होंने खुद शोसल मीडिया पर जानकारी देते हुए खुद को आइसोलेट कर लिया था।

बाद में उन्हें खासी की गंभीर शिकायत हुई जिसके बाद उनका आरटीपीसीआर व एंटीजन टेस्ट भी किया गया जिसमें उन्हें नेगेटिव बताया गया। शनिवार शाम को अचानक उनकी तबीयत काफी बिगड़ गई घर के लोग उन्हें आनन फानन में केएमसी डिजिटल हॉस्पिटल ले गए जहां पर चिकित्सकों ने जिला अस्पताल ले जाने के लिए कहा जिला अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। उनकी मौत की सूचना से कस्बे में कोहराम मच गया। बड़ी संख्या में क्षेत्र के पत्रकार जनप्रतिनिधि व क्षेत्र वासियों ने उनके आवास पर पहुंच कर गहरी शोक संवेदना व्यक्त किया।

वरिष्ठ पत्रकार विनय पाठक, रामउजागिर यादव, कुलदीप कुमार, उमाशंकर उपाध्याय, सुभाष यादव, वेद प्रकाश पूरी, रामकृष्ण जायसवाल, प्रमोद गौंड, जयसिंह, आशीष जायसवाल उर्फ सोनू, इनमुल्लाह खान, राकेश यादव, अमित जायसवाल, जगदम्बा जायसवाल, गौरव जायसवाल, सौरभ जायसवाल, रवि यादव, धीरज जायसवाल, वरिष्ठ भाजपा नेता योगेंद्र यादव, दिलीप चौधरी, व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन जायसवाल, नन्हे सिंह, मुन्नू अंसारी, सतरजीत, महेश शर्मा, दिलीप गुप्ता, राकेश जायसवाल, विनोद जायसवाल, गणेश जायसवाल, दिनेश कुमार, बबलू चौरसिया, जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि राकेश यादव, रफीक भाई, पंकज श्रीवास्तव, मदनगोपाल यादव, राजू सिंह, कन्हैया चौहान, अमित पासवान, अशोक पटवा, विनय जायसवाल, बबलू सिंह, पूरन यादव, अफजल हुसैन, फुलकुंवर चौहान, सिराजुल हक, गुंजन पासवान, शैलेन्द्र चौधरी, सहित अन्य लोगों ने शोक व्यक्त किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।