छत्तीसगढ़ पहुंची बंगाल हिंसा की आग, कोंडागांव में भाजपा नेअपने घरो से दिया धरना
May 5th, 2021 | Post by :- | 219 Views

कोंडागांव(नरेश जैन )-–पश्चिम बंगाल में फैली हिंसा की आग अब छत्तीसगढ़ पहुंच चुकी है । भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय और भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला करते लोकतंत्र की हत्या की है । इसके विरोध में भाजपा देश भर मे धरना दे रही है । इसी क्रम मे छत्तीसगढ़ प्रदेश नेतृत्व के साथ साथ जिला इकाई से लेकर सभी दस मंडलों के भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने अपने निवास से काली पट्टी बांधकर हाथो में ममता बैनर्जी और तृणमूल विरोधी तख्तियां लिए मंडल स्तर पर प्रदर्शन किया । दोपहर 2 बजे से 5 बजे के मध्य कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए, चेहरे पर मास्क लगाए कार्यकर्ता अपने अपने घर के बाहर धरने पर बैठकर विरोध दर्ज किए । धरने में शामिल कार्यकर्ताओ ने हिंसा और हमलों की तीखी निंदा की है ।

रविवार से शुरू हुई हिंसा के बाद टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने भाजपा समर्थकों के घरों, दुकानों पर हमला किया है, साथ ही अभी तक उनके कुछ कार्यकर्ताओं की हत्या भी की गई है । बंगाल की हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राज्यपाल जगदीप धनखड़ से फोन पर बात की थी और राज्य के हालात पर चिंता व्यक्त की थी । इस बीच मंगलवार को ही जेपी नड्डा बंगाल पहुंचे और बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिवारों से मुलाकात की ।
जिलाध्यक्ष दीपेश अरोरा ने कहा कि महामारी के दौरान जहां मानव समाज एक दूसरे की जान बचाने के लिए प्रयासरत है, वहीं पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद ममता बनर्जी के संरक्षण में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं, उपद्रवियों व गुंडों द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ लगातार हिंसा, मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी और उनकी हत्या की जा रही है जो निंदनीय है ।
भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष लता उसेंडी ने हिंसा पीड़ितों और मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देते कहा कि भाजपा परिवार का प्रत्येक कार्यकर्ता बंगाल के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ खड़ा है । सत्ता में आए हुए लोग इसी तरह राजधर्म की बजाय गुंडा धर्म की पालना करेंगे तो लोकतंत्र बचेगा ही नहीं । यह प्रजातंत्र के मानदंडों और मापदंडों के खिलाफ है टीएमसी को इस हिंसा को रोकना चाहिए ।

इस दौरान धरना प्रदर्शन में मनोज जैन, गोपाल दीक्षित,ओमप्रकाश टावरी,श्रीमती हेमकुंवर पटेल, जसकेतु उसेंडी, तरुण साना, आकाश मेहता, रीता शुक्ला, जैनेंद्र सिंह ठाकुर,रौनक दीवान, प्रतोष त्रिपाठी, बंटी नाग, संतोष पात्र, अविनाश सोढ़ी, विश्वजीत, अभिषेक चौधरी, महेंद्र पारख , सुनील कोर्राम, विक्की रवानी, अविरल अरोरा, गुलशन दुआ, तिमिर प्रकाश, बिट्टू पाणिग्रही, प्रवीण जैन ने धरना दिया ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।