ऑक्सीजन के कार्य और जनसेवा के दृष्टिïगत जिला प्रशासन नियमित रूप से कर रहा है कार्य:उपायुक्त।
May 4th, 2021 | Post by :- | 193 Views

अम्बाला:अशोक शर्मा।।
कोविड-19 के दृष्टिगत जिले में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुचारू रूप से होती रहे, किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो, इस बात को ध्यान में रखते हुए चल रहे कार्यों की निरंतरता में उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने मंगलवार को साहा इंडस्ट्रीयल एरिया स्थित साहा गैस इंटरप्राईजिज (ऑक्सीजन गैस एयर प्लांट) का निरीक्षण करते हुए यहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने सम्बन्धित एंजैसी के प्रतिनिधियों को अधिक से अधिक गैस तैयार करने के निर्देश दिये तथा कहा कि प्रतिदिन 100 ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर स्पेयर भी रखे जाएं ताकि समय पर जरूरतमंदों को दिए जा सकें।
उपायुक्त अशोक कुमार ने इस मौके पर बताया कि जिले में कोविड-19 के मद्देनजर ऑक्सीजन की किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो, इसके लिए आज यहां का दौरा किया गया। उन्होंने बताया कि गत रात्रि भी ऑक्सीजन कार्य के साथ-साथ अन्य सम्बन्धित कार्यों को लेकर देर रात तक जिला प्रशासन कार्य करता रहा और जहां पर ऑक्सीजन गैस की सप्लाई की निर्धारित मापदंडों के तहत जरूरत थी वहां पर उसे मुहैया करवाने का काम भी किया गया है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के समय हमें बेहतर समन्वय के साथ कार्य करते हुए अपनी डयूटी का निर्वाह करते हुए लोगों के जीवन को भी सुरक्षित करना है।
उपायुक्त ने साहा गैस इंटरप्राईजिज के प्रतिनिधि को कहा कि वे निर्धारित मापदंडों के तहत जो हिदायतें है उसके अनुसार ही सप्लाई देना सुनिश्चित करेंगे। उपायुक्त ने उनसे प्रतिदिन के हिसाब से यहां पर कितने ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर तैयार करने की क्षमता है, के साथ-साथ अन्य महम्वपूर्ण जानकारी ली। उपायुक्त ने सम्बन्धित प्रतिनिधि को कहा कि वे 100 ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर स्पेयर रखते हुए मुलाना भिजवाना सुनिश्चित करेेंगे। उन्होंने कहा कि यदि कहीं पर भी कोई लापरवाही नजर आती है तो वे प्लांट को जिला प्रशासन द्वारा टेक ओवर करने काम किया जायेगा। सम्बन्धित प्रतिनिधि ने बिजली की समस्या के बारे उपायुक्त को अवगत करवाया। उपायुक्त ने तुरंत मौके पर ही बिजली बोर्ड के कार्यकारी अभियंता को फोन पर निर्देश दिये कि यहां पर बिजली सुचारू रूप से चलनी चाहिए ताकि ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर तैयार करने में किसी प्रकार की परेशानी न हो। उपायुक्त ने आरटीए गौरी मिड्डा को प्लांट संबधी तमाम गतिविधियों पर नजर रखने के निर्देश दिये।
इसके उपरांत उपायुक्त ने कामधेनू कॉम्पलैक्स का भी निरीक्षण किया। सम्बन्धित प्रतिनिधि ने उपायुक्त को बताया कि यहां पर नवनिर्मित प्लांट व मशीन के माध्यम से प्रतिदिन 700 ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर तैयार करने का काम किया जायेगा। उन्होंने तमाम प्रक्रिया के बारे में उपायुक्त को अवगत करवाया। इस मौके पर उपायुक्त ने निरीक्षण के दौरान साहा गैस इंटरप्राईजिज व कामधेनू कॉम्पलैक्स का जायजा लेने के बाद बताया कि जिले में इस महामारी के समय ऑक्सीजन गैस की कमी न हो, इसके लिए दोनों स्थानों का दौरा किया गया है। उन्होंने बताया कि साहा गैस एंजैसी से प्रतिदिन 460 ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर व नवनिर्मित कामधेनू कॉम्पलैक्स 700 ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर तैयार करने का कार्य किया जायेगा। कामधेनू कॉम्पलैक्स के प्रतिनिधि ने एक सप्ताह के भीतर इस कार्य को करना सुनिश्चित करने के लिए उन्हें आश्वस्त किया है। इस मौके पर आरटीए गौरी मिड्डा, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, बीडीपीओ डा0 दलजीत सिंह के साथ-साथ अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।
समाचार विद फोटो।
-डीसी के कार्य की मुख्य सचिव ने की सराहना।
अम्बाला, 4 मई:- हरियाणा के मुख्य सचिव डा0 विजयवर्धन ने कोरोना महामारी के इस कठिन समय में जिला उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा द्वारा किए जा रहे कार्यों के लिए प्रशंसा पत्र देते हुए उनकी सराहना की है। प्रशंसा पत्र में उन्होंने कहा है कि अशोक कुमार शर्मा ने इस कठिन समय में कोरोना के दृष्टिगत जो भी कठिनाईयां या दिक्कतें आ रही हैं उसको संभालते हुए बेहतर कार्य कर रहे हैं, इसके लिए वे प्रशंसा के पात्र हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि जिले में ऑक्सीजन की कमी न खले और चिकित्सा की दृष्टि से भी सभी व्यापक व्यवस्थाएं सुनिश्चित हों, इस पर उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा बेहतर समन्वय के साथ कार्य कर रहे हैं।
उपायुक्त ने प्रशंसा पत्र मिलने पर कहा कि इस प्रशंसा पत्र का श्रेय जिला प्रशासन से सम्बन्धित उन सभी अधिकारियों को जाता है जो इस कठिन समय में बेहतर समन्वय के साथ कार्य करते हुए अपनी डयूटी का निर्वाह कर रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे इसी प्रकार इस कार्य को करें ताकि जिले में कोविड के दृष्टिगत लोगों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।