कुल्लु जिला भी हिमाचल प्रदेश यूनियन आफ जर्नलिस्टस के रंग में रंगा ।
August 20th, 2019 | Post by :- | 120 Views

बद्दी (राज कश्यप )

आज कुल्लु जिला भी हिमाचल प्रदेश यूनियन आफ जर्नलिस्टस के रंग में रंग गया है। कुल्लु जिला के अधिकांश पत्रकारों ने बहुत ही सोच समझकर एचपीयूजे (संबद्व इकाई एनयूजे इंडिया) का दामन थाम लिया है।

कुल्लु के वरिष्ठ व युवा वर्किंग पत्रकारों ने आज एक जिला स्तरीय बैठक कर एचपीयूजे की जिला इकाई का गठन किया जिसमें वरिष्ठ पत्रकार श्री गौरी शंकर जी को जिले की कमान सौंपी गई वहीं दविंद्र कुमार को महासचिव बनाया गया। मैं विश्वास दिलाता हूं कि कुल्लू की जिला इकाई ने हमारे उपर जो विश्वास जताया है उस पर हम खरा उतरने का प्रयास करेंगे। यह संगठन गैर राजनीतिक तौर पर कार्य करते हुए सबको साथ लेकर सबका विकास करने मेें विश्वास रखता है।

पत्रकारों से संबधित मुददे सरकार के समक्ष हमने पहले भी उठाए गए थे और आगे भी उठाते रहेंगे। हरियाण की तर्ज पर सभी पत्रकारों को 10 हजार रुपये पेंशन मिले ताकि वह भी समाज में सम्मानपूर्वक जीवन जी सके। इसके अलावा एक दर्जन मुददों के साथ हम शीघ्र ही सरकार को मिलेंगे।

प्रदेश में हुई बरसात के कारण कुल्लु का रास्ता बंद है लेकिन जल्द ही हम कुल्लु इकाई की विधिवत घोषणा कुल्लु जाकर करेंगे यह बात प्रदेशाध्यक्ष रणेश राणा ने कहीं । उन्होंने बताया कि इस समय हमारे संगठन का विस्तार शिमला, सोलन, सिरमौर, ऊना, बिलासपुर, किन्नौर, कांगडा व कुल्लु समेत 8 में को चुका है।

अब हमने अगला लक्ष्य चंबा, हमीरपुर, मंडी व लाहौल स्थिति को सदस्यता के रुप में फतह करना है। प्रदेश में बरसात का माहौल है और बारिश से लैंड स्लाईडिंग भी हो रही है। 16 नंवबर को अध्यक्ष पद की शपथ लेने के बाद मैने एक साल के भीतर सभी जिलों में इकाईयां बनाने का लक्ष्य लिया था। जिसको आप सबके सहयोग से 31 मार्च तक पूर्ण कर लिए जाने की आशा है। हमारा एकमात्र ध्येय पत्रकारों के हितों की लडाई लड़नी है । इस मौके पर रणेश राणा अध्यक्ष के साथ सुरेन्द्र शर्मा NUJ प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य, किशोर ठाकुर, रुप किशोरमहासचिव,ओमपाल सिंह वित्त सचिव,रिषी ठाकुर, सचिन बैंसल मुख्य रूप से उपस्थिति रहे ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।