लखीमपुर खीरी विकासखंड मितौली के मतदान केंद्र शिवपुरी पर पुनः मतदान कराए जाने के आदेश।
April 22nd, 2021 | Post by :- | 80 Views

लखीमपुरखीरी(पवन दीक्षित)विकास खण्ड मितौली के शिवपुरी पोलिंग बूथ पर क्षेत्र पंचायत सदस्य का उच्च प्रशासन ने लिया संज्ञान, पुनः मतदान का दिया आदेश।अवर अभियंता सिंचाई सतीश चंद्र मौर्य ए आर ओ व पीठासीन अधिकारी की लापरवाही उजगर।

पंचायत चुनाव कर्मियों की लापरवाही उजागर मितौली व्लाक की ग्राम पंचायत शिवपुरी की बूथ संख्या 150 व 151 पर जहाँ बीडीसी वार्ड संख्या 111 पर 19 अप्रैल मतदान किया गया।जिसमे कुल पांच उम्मीदवार थे जब सुबह एजेंट बनाने की प्रक्रिया शुरू हुई तो अपना नाम व चुनाव चिन्ह न मिलने पर आपत्ति जताई गई।जवाब मागने पर पीठासीन अधिकारी सभी को भगा दिया।तथा कोई जानकारी नही दी मतदाता जब वोट डालने गए तो सिर्फ तीन चुनाव निशान का बैलेट पेपर मिलने की जानकारी दी।आरओ,एआरओ से शिकायत दर्ज कराई गई किन्तु मतदान की प्रक्रिया संचालित रही दोबारा मतदान कराने की जिला निर्वाचन अधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने संबंधित एआरओ व पीठासीन अधिकारी को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण तलब किया।
राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र भेजकर संतुष्टि सहित दोबारा मतदान कराने की अनुमति मांगी है।
डीपीआरओ सौंम्य शील सिंह ने बताया की मत पत्रों की बंडलिंग के समय संबंधित एआरओ ने ध्यान नहीं दिया जिसके बाद मत पत्रों के वितरण के समय पीठासीन अधिकारी ने मत पत्रों का मिलान नहीं किया।
पीठासीन अधिकारी पर स्थानीय पत्रकार तथा स्थानीय लोग लगातार जवाब मागते रहे तथा विरोध करते रहे पीठासीन अधिकारी दबंगई दिखाते हुए पुलिस प्रशासन से लगातार लोगों को डंडे के बल पर खदेड़ते रहे। प्रत्याशियों द्वारा बनाए गए एजेंट की एक ना सुनी गई। अपने आधार पर पीठासीन अधिकारी मतदाताओं के वोट का निर्णय स्वयं लिया। जिससे तमाम लोग वोट डालने से वंचित रह गए।
स्थानीय लोगों का कहना है एआरओ द्वारा मतपत्रों की पेटियां 4:00 बजे पोलिंग बूथ पर लाई गई।
शक के आधार पर लोगों ने जानना चाहा तो प्रशासन ने पुलिस बल का प्रयोग किया तथा कोई जानकारी नहीं दी गयी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।