कम्युनिटी सेंटर का होगा विस्तार : देवशाली
April 8th, 2021 | Post by :- | 38 Views

चंडीगढ़ ( मनोज शर्मा)वार्ड २० से पार्षद शक्ति प्रकाश देवशाली ने प्रशासक के सलाहकार, महापौर, निगम आयुक्त और प्रशासनिक एवं नगर निगम अधिकारियों की संयुक्त बैठक में वार्ड के विभिन्न विषयों को उठाते हुए कम्युनिटी सेंटर के साथ खाली जगह कम्युनिटी सेंटर के विस्तार के लिए मांगी जिसके लिए सलाहकार  ने तुरंत सहमति दे दी। अब इस कम्युनिटी सेंटर का विस्तार हो सकेगा।
उन्होंने औद्योगिक क्षेत्र और सेक्टर २९ में प्रशासन की खाली पड़ी जगह को व्यस्थित करने की मांग की, इसके अतिरिक्त एम डब्ल्यू  और इंडस्ट्रियल एरिया में खाली प्लाटों पर हुए अनधिकृत कब्जे खाली करवाने की भी मांग की।   उन्होंने सेक्टर २९ सी में खाली पड़े शोरूम के प्लाटों के स्थान को विकसित और नीलामी की प्रक्रिया प्रारम्भ करने की मांग की।
उन्होंने सेक्टर २९ स्थित ई एस आई डिस्पेंसरी को सिविल हॉस्पिटल में परिवर्तित करने की मांग की जिसके लिए सम्बंधित अधिकारियों ने असमर्थता व्यक्त की।   इस पर सलाहकार मनोज परिदा ने सेक्टर २९ में अन्य उपयुक्त स्थान का सर्वे करने के लिए प्रशासन के चीफ आर्किटेक्ट और चीफ इंजीनियर को वैकल्पिक स्थान ढूंढने के लिए कहा।
देवशाली ने सेक्टर २९ में स्थित टेनामेंट मकानों के बीच बने कॉमन पैसेज तथा सीढ़ियों की भी मुरम्मत करने की मांग की जिसके लिए सम्बंधित अधिकारियों को मौके का निरीक्षण कर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा गया।   उन्होंने सेक्टर २९ स्थित साईं धाम के बाहर गाड़ियों के अव्यवस्थित तरीके से खड़े किये जाने के कारण विशेषकर बुजुर्गों को हो रही समस्या से भी अवगत कराया जिसके लिए चंडीगढ़ पुलिस के अधिकारियों को भी मौके का निरीक्षण कर समाधान करने के आदेश दिए गये।
देवशाली ने प्रशासक के सलाहकार मनोज परिदा से पूरे शहर की इंटरसेक्शन रोड पर लगने वाले जाम को मुद्दा भी उठाया और कहा कि इसके लिए कोई व्यवस्था की जाए चाहे ओवरब्रिज यअंडरब्रिज बनाकर इस समस्या का समाधान हो सके। सलाहकार ने तुरंत चीफ इंजीनियर को पूरे शहर को जाम से मुक्ति दिलाने हेतु अत्याधुनिक तकनीक से कोई ठोस योजना बनाकर  प्रस्तुत करने को कहा।
शक्ति प्रकाश देवशाली ने प्रशासक के सलाहकार मनोज परिदा, महापौर रविकांत शर्मा, निगम आयुक्त कमल किशोर यादव और प्रशासनिक एवं नगर निगम अधिकारियों का धन्यवाद व्यक्त किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।