जैन युवा एकता संघ की 7 वीं जैनेश्वरी तीर्थवन्दना यात्रा शनिवार को
September 20th, 2019 | Post by :- | 119 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । जैन समाज के सबसे बड़े युवा संगठन अखिल भारतीय दिगम्बर जैन युवा एकता संघ मानसरोवर संभाग द्वारा शनिवार 21 सितंबर से चार दिवसीय तीर्थ वंदना यात्रा का भव्य आयोजन किया जाएगा। इस आयोजन में जैन श्रद्धालु प्रदेश के भीलवाड़ा जिले के बिजौलिया पार्श्वनाथ के अलावा मध्य प्रदेश के दर्जनभर तीर्थ स्थलों के दर्शन करेगा। मानसरोवर संभाग महामंत्री अनुज गंगवाल ने बताया कि एकता संघ द्वारा लगातार सातवीं वर्ष धार्मिक यात्रा का आयोजन किया जाएगा। इस यात्रा में देशभर के 165 यात्री सम्मिलित किये गए है जो 3 एसी बसों के माध्यम से चार दिन की यात्रा करेगे। यात्रा 21 सितंबर को सायं 6 बजे वरुण पथ दिगम्बर जैन मंदिर से मुनि विश्वास सागर और मुनि विभंजन सागर महाराज का मंगल आशीर्वाद प्राप्त कर रवाना होगे। इससे पूर्व सभी यात्री सायं 5 बजे से वरुण पथ मन्दिर में एकजुट होना शुरू कर देंगे। अध्यक्ष कुलदीप छाबड़ा ने बताया कि यात्रा रवानगी से पूर्व भगवान महावीर स्वामी की मंगल आरती करते हुए विराजमान युगल मुनिराज की आरती एवं मंगल आशीर्वाद प्राप्त करते हुए यात्रा को रवाना किया जाएगा। इस दौरान आगंतुक अतिथियों का आदर सत्कार के साथ सभी यात्रियों के केसर तिलक लगाकर बसों में बिठाया जाएगा। जिसके पश्चात पूर्व भाजपा जयपुर शहर अध्यक्ष संजय जैन वार्ड पार्षद श्रीमती जया जैन वरुण पथ समिति अध्यक्ष एमपी जैन मंत्री जेके जैन सुरेशचंद जैन बांदीकुई भागचंद जैन खेड़ली वाले अशोक जैन खेड़ली वाले एकता संघ राष्ट्रीय अध्यक्ष अभिषेक जैन बिट्टू प्रमोद बाकलीवाल जिला अध्यक्ष एडवोकेट अभिषेक सांघी जिला महामंत्री रक्षित जैन सहित एकता संघ परिवार के सभी सदस्य और पदाधिकारी की आदि के द्वारा यात्रा को हरी झंडी दिखा रवाना किया जाएगा।
*यहाँ की होगी यात्रा:
यात्रा संयोजक सुदर्शन पाटनी एवं रवि जैन ने बताया कि आयोजित यात्रा में जैन श्रद्धालु मध्य प्रदेश के मक्की पार्श्वनाथ पुष्पगिरी नेमावर सिद्धवरकूट ऊन बावनगजा बडेनिया मुक्तांगगिरी गोम्टगिरी तपोभूमि इंदौर की यात्रा करते हुए प्रदेश के भीलवाड़ा जिले में स्थित बिजौलिया पार्श्वनाथ के दर्शन करेगे।
*मिलेगा इन संतो का आशीर्वाद:
संगठन मंत्री ललित जैन ने बताया कि यात्रा के दौरान सभी श्रद्धालुओ को पुष्पगिरी में विराजमान आचार्य पुष्पदंत सागर अन्तर्मना मुनि प्रसन्न सागर मुनि पीयूष सागर क्षुल्लक पर्व सागर महाराज ससंघ नेमावर में विराजमान आचार्य भगवंत विद्या सागर महाराज ससंघ बावनगजा में विराजमान मुनि प्रमाण सागर महाराज और बिजौलिया में विराजमान मुनि सुधा सागर महाराज ससंघ सहित कुल 70 से अधिक दिगम्बर जैन संतो और आर्यिका माताजी के दर्शन लाभ प्राप्त होंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।