महर्षि दयानंद सरस्वती जी ने महिलाओं के उत्थान के लिए अभूतपूर्व कार्य किए: डॉ. आयुषी शास्त्री
March 8th, 2021 | Post by :- | 224 Views

चंडीगढ़ (मनोज शर्मा) केंद्रीय आर्य सभा चंडीगढ़,  पंचकूला और मोहाली के  तत्वाधान में आर्य शिक्षण संस्थाओं और आर्य समाजों के सहयोग से आर्य समाज सेक्टर 22 में  महर्षि जन्म उत्सव का शुभारंभ हो गया है। आज का कार्यक्रम सुल्तानपुर,  उत्तर प्रदेश से पधारे प्रवक्ता डॉ.  शिवदत्त पांडे ने यज्ञ ब्रह्मा से प्रारंभ करवाया।   गुरुकुल करतारपुर पंजाब के ब्रह्मचारी गण ने सामूहिक वेद पाठ किया।  केबीडीएवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल के संगीत के अध्यापक राजेश वर्मा ने भक्ति भजन पेश किए। इसके पश्चात ध्वजारोहण किया गया। कार्यक्रम में परम डेयरी दिल्ली के सीएमडी राजीव कुमार बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे।  इस मौके पर डॉ शिवदत्त पांडे,  डॉ.  विक्रम कुमार विवेकी और डॉ. आयुषी शास्त्री ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर अपना व्याख्यान रखा।  डॉ. आयुषी ने कहा कि महर्षि दयानंद सरस्वती जी ने महिलाओं के उत्थान के लिए कई अभूतपूर्व कार्य किए हैं जिन्हें कभी नहीं भुलाया जा सकता।  उन्होंने कहा कि स्वामी दयानंद जी ने कई कुप्रथाओं और भ्रांतियों का निवारण किया। स्वामी जी ने बताया कि स्त्रियां भी वेद  पढ़ और पढ़ा सकती हैं। इस मौके पर आर्य समाजों के सदस्य, पदाधिकारी और स्कूलों के प्रिंसिपल, टीचर्स और कई गणमान्य लोगों ने विशेष तौर रूप से भाग लिया ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।