ब्रह्माकुमारी संस्था में मनाई गई शिव जयंती।
March 6th, 2021 | Post by :- | 92 Views

जौनपुर (आँचल सिंह )। स्थनीय नगर के पकड़ी में स्थित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय संस्था में शिव जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रयागराज से पधारी राजयोगनी तपस्विनी ब्रम्हाकुमारी मनोरमा दीदी ने ओमशान्ति ध्वज फहराकर और प्रगति दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। इस दौरान राष्ट्रीय संयोजिका धर्म विभाग राजयोगिनी ब्रह्मकुमारी मनोरमा दीदी ने लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व एक है हम सभी एक ही परम पिता की संतान हैं। पवित्रता, प्रेम, शांति, सुख और आनंद की अनुभूति से स्वर्णिम संसार की संकल्पना साकार की जा सकती है।

उन्होंने आगे कहा कि परस्पर सद्भाव और प्रेम का स्वच्छ समाज बनाने के लिये सभी को एक होना पड़ेगा।इस दौरान उन्होंने बताया कि अभियान का मुख्य उद्देश्य अनेकता में एकता, भ्रांतियों का निवारण, जीवन मूल्यों की पुर्न स्थापना और ईश्वर में सच्ची आस्था जागृत करना है।
वहीं संस्था की संचालिका अनीता दीदी ने कहा कि आज संसार में चारों ओर चिंता, भय, निराशा का वातावरण है। मनुष्य विकारों की अग्नि में तप रहे हैं। प्राणी मात्र पर दुखों व प्राकृतिक आपदाओं का पहाड़ टूट रहा है। मानव दुख को सुख में, अशांति को शांति में, घृणा को प्रेम में, अज्ञान को ज्ञान में परिवर्तन कर सुख शांतिमय जीवन व्यतीत करना चाहता है। सर्व आत्माओं की मनोकामना पूर्ण करने वाला एक परमपिता शिव ही है। कार्यक्रम के पूर्व में मुख्य अतिथि मनोरमा दीदी एव विशिष्ट अतिथि नगर पालिका अध्यक्ष शिव गोविंद साहू व समाज सेवी पशुपति नाथ गुप्त (मुन्ना) सहित अतिथियों का संस्था की संचालिका अनीता दीदी द्वारा तिलक , बैच लगाकर व अंगवस्त्रम तथा ईश्वरी सौगात व पुष्प देकर सम्मानित किया गया।

जयंती समारोह में पूजा बहन ने अपने व्याख्यान में शिवरात्रि का आध्यात्मिक अर्थ एवं राजयोग द्वारा खुशनुमा जीवन, तनावमुक्त, क्रोध मुक्त ,जीवन बनाने की विधि को विस्तार से बताया। कार्यक्रम की अध्यक्षता बीके अनिल यादव तथा संचालन दीपा व श्रद्धा बहन ने किया। इस अवसर पर अनिल, राजमणि यादव, अवधेश, दयाराम, अयोध्या प्रसाद, राजेंद्र कुमार, वीरेंद्र कुमार, व अनिल भाई आदि लोग बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

विशेष संवाददाता जय प्रकाश तिवारी

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।