बेसहारा कुत्तों की आबादी के प्रबन्धन का जायजा लेने के लिये निगरानी एवं कार्यान्वयन समिति सोमवार को सुखदर्शनपुर का दौरा करेगी।
February 28th, 2021 | Post by :- | 187 Views

पंचकूला।(मनीषा)  नगर निगम पंचकूला के आयुक्त व निगरानी एवं कार्यान्वयन समिति के अध्यक्ष  आरकेसिंह की अध्यक्षता में सैक्टर-14 स्थित निगम कार्यालय में बेसहारा कुत्तों की आबादी के प्रबंधन के सम्बन्ध में निगरानी एवं कार्यान्वयन समिति की बैठक आयोजित की गई।
निगरानी एवं कार्यान्वयन समिति की बैठक में नगर निगम के संयुक्त आयुक्त एवं समिति के सदस्य सचिव संयम गर्ग,कार्यकारी अभियन्ता संजीव गुप्ता,भारत पशु कल्याण बोर्ड की प्रतिनिधि चेतना  जोशी,पशु कल्याण संध की ओर से मीनाक्षी महापात्रा,पशुओं की क्रुरता की रोकथाम के लिये जिला समाज प्रतिनिधि डा0 राजेन्द्र सिंह, पशुपालन विभाग के उपनिदेशक डा0 अनिल बनवाला, पशुपालन विभाग के विशेष पशु चिकित्सा अधिकारी डा0 समीर भारद्वाज,स्वास्थ्य विभाग की ओर से डा0 मनकीरत,बेजुबान संगठन की ओर से शौर्य सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी भी उपस्थित रहे। आर.के.सिंह ने स्पष्ट करते हुये कहा कि कुत्तों को पकड़ कर किसी भी हालत में निगम क्षेत्र में सुखदर्शनपुर में डॉग केयर,अस्पताल,छात्रावास,अडप्शन एवं पुनर्वास केन्द्र में नही रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इण्डिया,भारत के सर्वोच्च न्यायलय,उच्च न्यायलय,केन्द्र व राज्य सरकारों की गाइड लाईन,कानून एवं नियमों के दायरें में रह कर ही बेसहारा कुत्तों की आबादी के प्रबंधन की दिशा में निगम कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि निगरानी एवं कार्यान्वयन समिति द्वारा लिये गये अन्तिम निर्णय अनुसार ही कुत्तों के प्रबंधन के बारे कार्य सुनिश्चित किया जायेगा। इस के साथ-साथ  उन्होंने यह भी कहा बीमार एवं जख्मी कुत्तों के उपचार के बाद उन्हें जहां से लेजाया गया है वहीं पर छोडा जाना भी सुनिश्यित किया जायेगा।  बैठक में समिति द्वारा कुत्तों को पकडने,परिवहन,अश्रय,नसबंदी,टीकाकरण व उपचार की दिशा में भी विस्तार से चर्चा की गई।
स्मिति द्वारा लोगों को जागरूक करने करने के लिये व्यापक कार्यक्रम बनाने की दिशा में भी निर्णय  लिया गया। आंगनवाडी केन्द्रों,स्कूलों,तथा अन्य प्रचार मध्यमों से भी आम लोगों को जागरूक करने पर भी विभिन्न महत्वपूर्ण बिन्दूओं पर विस्तार से चर्चा हुई। इसके  साथ साथ आवारा कुत्तों की आबादी के प्रबंधन के लिये निगम द्वारा बनाई गई व्यापक योजना पर भी विस्तार से चर्चा हुई।
नगर निगम आयुक्त ने निगम द्वारा आवारा कुत्तों की आबादी के प्रबंधन की दिशा में बनाई गई योजना में कुत्तों के कल्याण के लिये और कुछ करने बारे विस्तार से जानकारी दी। बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रथम मार्च को दोपहर बाद एक बजे निगरानी और कार्यान्यवन समिति के सदस्यों द्वारा डॉग केयर,अस्पताल,छात्रावास,अडप्शन एवं पुनर्वास केन्द्र का  दौरा भी किया जायेगा। समिति द्वारा दौरे के दौरान कुत्तों के रखरखाव के सम्बन्ध में बनाये गये भवन का निरीक्षण करने के साथ साथ वहां पर कुत्तों को दी जाने वाली विभिन्न सुविधाओं के बारे में भी जायजा लिया जायेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।