अरूण सूद ने चंडीगढ़ के स्थानीय लोगों की समस्याओं को  केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष रखा
February 25th, 2021 | Post by :- | 90 Views

चंडीगढ़ (मनोज शर्मा) भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने अपने तीन  दिवसीय दिल्ली प्रवास के दौरान संगठनात्मक बैठक के साथ साथ चंडीगढ़ के स्थानीय लोगों की समस्याओं को भी केंद्रीय मंत्रियों तथा केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष उठाया |  उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा, राष्ट्रीय महासचिव और चंडीगढ़ प्रभारी दुष्यंत गौतम, गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी, नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पूरी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह,  संचार एवम सूचना प्रोद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला से भेंटवार्ता की और उनको विस्तृत रूप से चंडीगढ़ के लोगों की विभिन्न समस्याओं से अवगत करवाया |

उक्त विषयों की जानकारी प्रदान करते हुए प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने बताया कि 20और 21 फ़रवरी को भाजपा के नयी दिल्ली केंद्रीय कार्यालय में पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारी , प्रदेश अध्यक्ष, संगठन महामंत्री और प्रदेश प्रभारियों की बैठक में भाग लिया | बैठक की अध्यक्षता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने की | इस बैठक में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी मार्गदर्शन प्राप्त हुआ |  प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने बैठक में चंडीगढ़ भाजपा द्वारा एक वर्ष में किये गए कार्यों की 100 पेजों की विस्तृत रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा के समक्ष रखी और उपस्थित सभी पदाधिकारियों ने चंडीगढ़ की रिपोर्ट की सराहना भी की |

इस बैठक के उपरान्त उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा से उनके निवास में भेंट की और उनके साथ  चंडीगढ़ के संगठनात्मक और राजनैतिक परिदर्शा पर मंथन हुआ | इस भेंटवार्ता में चंडीगढ़ नगर निगम के चुनावों को लेकर भी बातचीत हुई और वर्तमान में प्रदेश संगठन की संरचना की समीक्षा भी की गयी | नड्डा ने विभिन्न पहलुओं पर दिशानिर्देश देते हुए कहा कि आगामी तीन माह के अन्दर अन्दर चंडीगढ़ में बूथ अध्यक्षों के साथ साथ मतदाता सूची पन्ना प्रमुख तक संगठन की सभी नियुक्तियां की जाएँ और सभी पदाधिकारीगण  जनता के बीच जाकर जनसंपर्क करें | उन्होंने आश्वासन दिया कि केंद्रीय नेतृत्व पूरी तरह से चंडीगढ़ भाजपा के साथ है और नगर निगम चुनाव में पार्टी की प्रचंड जीत सुनिश्चित करने हेतु समय समय पर केंद्रीय नेतृत्व और वे स्वयं लगातार संपर्क में रहेंगे और जरूरत अनुरूप मार्गदर्शन भी देते रहेंगे |

उपरोक्त विषयों पर विस्तृत रूप से चर्चा करने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और चंडीगढ़ प्रभारी दुष्यंत गौतम से भी भेंटवार्ता की और उन्होंने कहा कि  वे आगामी  28 फ़रवरी को चंडीगढ़ में दो दिवसीय प्रवास हेतु आ रहे हैं और इस दौरान वो पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से बैठक कर नगर निगम चुनावों की रणनीति और संगठन विस्तार पर चर्चा करेंगे |

इसके पश्चात अरुण सूद ने  केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी से भेंटवार्ता की और उनसे अनुरोधी किया कि  चंडीगढ़ केन्द्रशासित प्रदेश है और  गृह मंत्रालय से समन्वय हेतु चंडीगढ़ की अभी तक गृह मंत्री सलाहकार समिति का गठन नहीं हुआ है, इसका जल्द से जल्द गठन किया जाये | चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के मकानों के  निवासियों की समस्याओं को उठाते हुए कहा कि यहाँ के लोगों ने जरूरत के अनुसार अपने अपने मकानों में निर्माण किया हुआ है | क्योंकि समय के साथ परिवार भी बड़े हुए हैं इसलिए इन लोगों को नीड बेस चेंज को नियमित करने हेतु कोई हल निकला जाये | इसके लिए उन्होंने सुझाव दिया कि जिस प्रकार से दिल्ली में वन टाइम सेटलमेंट के आधार पर दिल्ली के लोगों को राहत प्रदान की गयी है ठीक उसी फार्मूले चंडीगढ़ में भी लागू करवाया जाये | इसके अलावा उन्होंने हाउसिंग  कोआपरेटिव सोसाइटीज को अनर्जित लीज़ होल्ड की छूट प्रदान करने की बात रखी तथाहाउसिंग सोसाइटीज की अन्य मांगों को भी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के समक्ष उठाया |

उधर सूद ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री को चंडीगढ़ के गाँवों के लोगों की विभिन्न समस्याओं को बताते हुए कहा कि लाल डोरे से बाहर बने मकानों  के लोगों को राहत प्रदान करने के लिए लाल डोरे को समाप्त किया जाये | किसानो की जमीन का कोलेक्टरल रेट वर्तमान में बहुत ही कम है इसको बढाया जाये और शहर की भांति चंडीगढ़ के गाँवों का भी विकास करवाया जाना चाहिए | साथ ही चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा पानी की दर की वृद्धि को लेकर जारी की गयी अधिसूचना को संशोधित करके पानी के रेट कम करने की मांग भी रखी |

उन्होंने चंडीगढ़ औद्योगिक क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के समक्ष रखते हुए कहा कि इंडस्ट्री पालिसी का लाभ सभी उद्योगपतियों को एक समान मिलना चाहिए , इंडस्ट्री प्लाट को लीज होल्ड से फ्री होल्ड में करने की सुविधा , और वहां पर जरूरत के अनुसार किये गए परिवर्तन को नियमित किया  जाये | इसके अलावा उन्होंने चंडीगढ़ के रोडसाइड वेंडर्स की समस्याओं को भी गृह राज्य मंत्री के समक्ष रखा |

इसके अलावा उन्होंने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री रेड्डी से मांग की कि चौथे दिल्ली के  वित्त आयोग कमीशन की सिफारिशों के आधार पर चंडीगढ़ नगर निगम को राजस्व का 30 प्रतिशित हिस्सा प्रदान किया जाये ताकि शहर के विकास के लिए नगर निगम के पास अतिरिक्त पैसा आ सके |

हाल ही भारत सरकार ने चंडीगढ़ पुलिस के इंस्पेक्टर से डीएसपी प्रमोट करने के नए रूल्स बना दिए हैं। इसके लिए प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने गृह राज्य मंत्री रेड्डी का धन्यवाद व्यक्त किया और मांग की कि  चंडीगढ़ पुलिस के डीएसपी कैडर को एजीएमयूटी का इंडिपेंडेंट फीडर कैडर बनाने की पहल तुरंत करनी चाहिए ताकि चंडीगढ़ पुलिस के डीएसपीस को सालों से वंचित उनका एसपी व आईपीएस  बनने का अधिकार प्राप्त हो सके। उन्होंने चंडीगढ़ पुलिस में यू टी कैडर के पुलिस उपाधीक्षकों की प्रमोशन पर बरती जा रही अनियमता को बताते हुए कहा कि देश में ये नियम लागू है कि पुलिस अधीक्षक को बनाते समय 67 प्रतिशत सीधे तौर पर भर्ती और 33 प्रतिशत प्रमोशन आधारित पुलिस उपाधीक्षकों को प्रमोशन प्रदान की जाती है | परन्तु चंडीगढ़ में इसकी अभी तक पूर्ण रूप से अनदेखी की गयी है | यू टी कैडर के पुलिस अधिकारीयों को इसका लाभ नहीं दिया जा रहा | चंडीगढ़ कैडर के अफसरों को भी प्रमोट किया जाये |

इसके साथउन्होंने केंद्रीय गृह  मंत्री से मांग की कि चंडीगढ़ में  गौ रक्षा कमीशन का गठन किया जाना चाहिए | उपरोक्त सभी समस्याओं के निवारण हेतु केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने आश्वासन दिया कि जल्द ही वे उपरोक्त सभी समस्याओं का संज्ञान लेंगे और जल्द ही वे चंडीगढ़ का दौरा भी करेंगे |

शहर के निवासियों को हवाई सफ़र में आने वाली समस्याओं से अवगत करवाने हेतु प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी के साथ विशेष रूप से भेंटवार्ता की और उन्हें बताया कि चंडीगढ़ से 5000 किलोमीटर से अधिक दूरी के देशों ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, कनाडा और अमेरिका आदि की यात्रा के लिए चंडीगढ़ एयरपोर्ट से फ्लाइट शुरू की जाएँ | इसके इलावा उन्होंने उड्डयन मंत्री से मांग की कि चंडीगढ़ एअरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखे जाने को लेकर आने वाली विभिन्न रुकावटों को हल करवाएं | उनकी मांगों  को सुनाने के उपरान्त  केंद्रीय उड्डयन मंत्री पुरी ने आश्वासन दिया कि 5000 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करने के लिए वे जल्द ही सभी एयरलाइन्स और चंडीगढ़ के प्रबुद्ध नागरिकों की संयुक्त बैठक अप्रैल माह के तीसरे हफ्ते में  दिल्ली में बुलाएँगे और विचारविमर्श किया जायेगा कि कौन सी एयरलाइन चंडीगढ़ से हवाई यात्रा उपरोक्त देशों के लिए चालू कर सकती है |

इसके अलावा प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने लोकसभा स्पीकर ओम बिडला, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और संचार, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी और विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद से भेंटवार्ता की और उनके समक्ष भी चंडीगढ़ वासियों की उनके विभाग से सम्बंधित समस्याओं को रखा |

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।