विभिन्न स्कूलों के बच्चों द्वारा यातायात नियमों संबधी विषय को लेकर की गई पेंटिग और लिखे गये श्लोग्न–ऑटो रिक्शा चालकों के स्वास्थ्य की करी गई जांच–स्टीकर लगाकर लोगों को किया गया जागरूक।
February 15th, 2021 | Post by :- | 194 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा)
सडक़ सुरक्षा कार्यक्रम के तहत अम्बाला छावनी के डीएवी स्कूल में आरटीए कार्यालय द्वारा श्लोग्न और पेंटिग का आयोजन किया गया। आरटीए कार्यालय में स्वास्थ्य चैकअप कैंप जबकि अम्बाला सिटी बस स्टैंड के सामने यातायात जारूकता कार्यक्रम आयोजन किया गया जिसमें क्रमानुसार स्कूली बच्चों, आमजनों व वाहन चालकों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम में स्कूली बच्चों और वाहन चालकों के स्वास्थ्य की जांच की गई जिसमें आंखों की जांच भी शामिल है। शिविर रूपी कार्यक्रम में बच्चों को यातायात के नियमों बारे जानकारी दी गई। अम्बाला शहर बस स्टैंड के सामने करीब 200 ऑटो रिक्शा चालकों को यातायात के नियमों के बारे में जागरूक किया गया। इस मौके पर आरटीए गौरी मिड्डा और इंस्पैक्टर बृज भूषण भी उपस्थित रहे। इतना ही नहीं आरटीए कार्यालय द्वारा यातायात के नियमों बारे लोगों को जागरूक के स्टीकर भी चिपकाए गये। इस दौरान फोलो ट्रैफिक रूलस सेव यूवर फयूचर दर्शाते श्लोग्र भी आकर्षण का केन्द्र बिंदु बने रहे। ये कार्यक्रम रूपी शिविर आरटीए कार्यालय द्वारा लगाये गये।
इस संदर्भ में जब आरटीए गौरी मिड्डा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि आरटीए कार्यालय द्वारा समय-समय पर लोगों को विशेषकर वाहन चालकों को जागरूक करने का काम किया जाता है। इसी के दृष्टिगत आज भी आरटीए कार्यालय परिसर में स्कूली बच्चों के साथ-साथ ऑटो रिक्शा चालकों को भी यातायात के नियमों बारे जानकारी दी गई। अन्य लोगों के स्वास्थ्य के साथ-साथ चालकों का भी स्वास्थ्य चैकअप किया गया। बच्चों द्वारा श्लोग्न और पेंटिग का कार्य संदर्भित विषय को लेकर किया गया। इस प्रकार के शिविर आगे भी जारी रहेंगे। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे यातायात के नियमों का पालन करें। नियमों का पालन करने के चलते दुर्घटनाओं से बचा जा सकता है, इसलिए यातायात के नियमों की पालना में सरकार और प्रशासन का भरपूर सहयोग दें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।