एक शाम शहीदों के नाम भारतीय संस्कृति और शिष्टाचार पूर्वसेनिक और सामाजिक कार्यकर्ता का सम्मान समारोह आयोजित होगा। राइजिंग वर्ल्ड वेल्फेयर सोसायटी बीकानेर के तत्वावधान में आयोजित होगा कार्यक्रम
February 12th, 2021 | Post by :- | 82 Views

बीकानेर (रामलाल लावा) राइजिंग वर्ल्ड वेल्फेयर सोसाइटी के संरक्षक मघा राम सहारण और मीडिया प्रभारी पूर्वा सैनिक कर्षण कुमार अखिल भारतीय अपराध प्रतिबंधित एव मानव अधिकार कमेटी के सम्भागीय अध्यक्ष ने बताया कि यह कार्यक्रम निम्न प्रकार से होगा ओर इस प्रोग्राम को अप्सरा मेडिकल स्टोर बीकानेर करेगा।
एक शाम शहीदों के नाम कार्यक्रम के तहत आयोजित होगा कार्यक्रम
भारतीय वीर शहीदों कि याद मे आने वाली 14 फरवरी 2021 को शहादत दिवस मनाया जाएगा ।
भारतीय संस्कृति, संस्कार और शिष्टाचार का प्रोग्राम होने जा रहा है
इस अवसर पर हर क्षेत्र मे सैनिकों और सामाजिक कार्यकर्ता को रत्न अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा ।
हम सब भारतीय 14 फरवरी 2019 को कभी भुला नहीं पाएंगे । क्योंकि इस दिन सड़क पर गुजरते हुए भारत माता के वीर सपूतो के काफिले पर कायर पाकिस्तान ने घात लगाकर हमला किया । जिसके कारण जम्मू कश्मीर के पुलवामा मे 45 भारतीय सैनिक शहीद हुये थे। राइजिंग वर्ल्ड वेलएयर सोसाइटी और मरुधरा सेवा संस्था बीकानेर ,नव भारत फ़ाउंडेशन भादरा, अखिल भारतीय अपराध प्रतिबंधित एव मानव अधिकार कमेटी बीकानेर के द्वारा आपके शहर बीकानेर मे संपूर्ण भारत वर्ष मे पहली बार संस्कृति और संस्कार दिवस नहीं मनाया जा रहा है। संस्कृति और संस्कार दिनों दिन खत्म होते जा रहे है जिससे आज का भारतीय युवा कुमार्ग पर जा रहा है । इसलिए हमारे देश की संस्कृति और सदियों से चले आ रहे अच्छे शिष्टाचार और संस्कारों को बचाने के लिए इस कार्यक्रम में सभी धर्मों के मात पिता अधिक से अपने बच्चों के साथ भाग लेंगे और अकेले भी भाग ले सकते है ।
हमारे देश मे सदियों से सैनिको और मात-पिता एव बुजुर्गों को बहुत सम्मान दिया जाता रहा है । ये हमारे देश की संस्कृति और शिष्टाचार व संस्कार है लेकिन कुछ सालों से दिनों – दिन भारतीय युवा मे संस्कृति और शिष्टाचार व संस्कार की भारी गिरावट आई है । आज के समय मे भारतवर्ष के लिए बहुत बड़ी चिंता की बात है । इसके लिए हमे जल्दी जल्दी से अपने परिवारों से बच्चों को संस्कार देने पड़ेंगे । संस्कार को संस्कृति की गिरावट के कारण दिनो दिन वृद्धाश्रम खुल रहे है । ये बहुत बड़ी चिंताजनक बात है कि हमारे पूर्वजो ने कभी सोचा तक नहीं था कि उनकी औलाद उन्हे बुढ़ापे मे (माँ बाप को भी) घर से बाहर निकाल देगी और बुढ़ापे मे ज़िंदगी बेसहारा गुजारनी पड़ेगी ,लेकिन आज आप आँखों सामने देख रहे है ।
इस कार्यक्रम में राजस्थान के सभी 33 जिलों के और बीकानेर संभाग के चारों जिलों की 34 सभी तहसीलों से जायदा से ज्यादा व्यक्तियों को निमन्त्रण पत्र देकर और सम्मिलित होकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाने के लिए विनती करते हैं
इस दिन बिकानेर मे मिनी राजस्थान बनेगा।
इस प्रोग्राम मे निम्न कार्यक्रम होंगे
1 मात-पिता के चरण वंदन
2 कवीओ दावरा भारतीय संस्कृति और संस्कार पे कवियों द्वारा प्रकाश 3 सैनिको को सम्मानित किया जायेगा
4 बच्चों को भी स्टेज पे बोलने का मौका दिया जाएगा
5 मात-पिता और बच्चों को एक साथ स्टेज पे सम्मानित किया
6 टाइम बैंक ऑफ इंडिया के बारे मे बताया जाएगा
इस कार्यक्रम कि रूपरेखा
– वीर शहीदो को पुष्पांजलि अर्पित करके दो मिनिट का मौन धारण करके प्रोग्राम का शुभारंभ किया जाएगा
2 आए हुए मेहमानो का सुस्वागतम का कार्यक्रम 3 सैनिकों का सम्मान
4 बुजुर्गों का सम्मान 5 बच्चों का सम्मान म्मत-पिता के साथ
6 कोरोना फाइटर चिकित्सा कर्मचारियों का सम्मान
7 सामाजिक कार्यकर्ताओं का सम्मान राष्ट्रीय निर्माण में जैसे रक्तदान,नेत्रदान, समय दान सड़क सुरक्षा,शिक्षा, वृक्षा रोपण अन्य किसी भी क्षेत्र मे सामाजिक कार्यकर्ता हो

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।