श्री गणेश राय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोभी जौनपुर(उत्तरप्रदेश)।
February 9th, 2021 | Post by :- | 248 Views

जौनपुर(आँचल सिंह)।श्री गणेश राय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोभी जौनपुर (उत्तरप्रदेश) में चल रहे रोवर्स रेंजर्स निपुण जांच शिविर का समापन मंगलवार को दीक्षा संस्कार के साथ हुआ। पांच दिनों तक चले शिविर में रोवर्स रेंजर्स को सेवा व साहसिक क्रियाओं का प्रशिक्षण दिया गया। रोवर्स रेंजर्स को सेवा कार्यों की शपथ भी दिलाई गई।
शिविर के पांचवें दिन समापन समारोह का शुभारंभ महाविद्यालय के मुख्य अतिथि व प्राचार्य डॉ. प्रवीण कुमार सिंह ने दीप प्रज्जवलित करके किया। उन्होंने रोवर्स रेंजर्स को संबोधित करते हुए कहा कि स्काउट गाइड का मुख्य उद्देश्य सेवा भाव है। बाढ़, भूकंप, आगजनी व प्राकृतिक आपदा में लोगों की मदद के लिए स्काउट-गाइड हमेशा तैयार रहते हैं। जाति-धर्म से परे हटकर पीड़ितों की सहायता करना प्रमुख उद्देश्य होता है। रोवर्स प्रभारी डॉ.डी.पी सिंह ने बताया स्काउट गाइड आंदोलन का उद्देश्य युवाओं में गुणवत्ता का विकास करना है न कि संख्यात्मक वृद्धि करना है। निरक्षक धीरेन्द्र कुमार सिंह ने रैली को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन, उद्योग विभाग, परिवारजनों एवं सर्विस रोवर्स को धन्यवाद ज्ञापित किया। रेंजर्स प्रभारी सरिता सिंह ने कहा स्काउट गाइड के माध्यम से छात्रों के जीवन को जीवंत बनाने में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है तथा उन्हें सम्मानित मंच भी प्रदान करता है। जीवन में स्वयं अनुशासित रहकर आगे बढ़ना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन स्काउट गाइड जिला डी.ओ.सी राकेश कुमार मिश्रा ने किया। जिसमें पांच दिवसीय रोवर्स रेंजर्स निपुण जांच शिविर में छात्रों को गांठ बंधन, टेंट निर्माण, खोज चिह्न, दिशा ज्ञान व बिना बर्तन के भोजन बनाने आदि के बारे में ज्ञानचन्द्र चौहान, अम्बुज सिंह, रोहित विश्वकर्मा,नीतेश प्रजापति द्वारा प्रशिक्षित किया गया।प्रतियोगिताओं में प्रथम,द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागीयों को सम्मानित किया गया। दल नायक विश्वास पाण्डेय ने सभी टोलियों का नेतृत्व पूरी निष्ठा से किया। सहायक प्रशिक्षक विशाल दूबे, कुँवर अनुराग सिंह, चन्दन ,मुस्कान व गरिमा ने कर्त्तव्य रूप से किया जिसका डा. धर्मपाल सिंह ने सराहना कि व दिशा-निर्देश दिया। उत्तरप्रदेश भारत स्काउट और गाइड जिला स्तरीय प्रशिक्षकों ने विश्वविद्यालय डोभी जौनपुर के अनुशासन, शिक्षा,निष्णा व सहयोगीता और आपसी भाईचारे का उदाहरण रूपी संवेदना जताई। पूर्व अध्यापक बनवारी लाल वर्मा ने लोकगीत के प्रति अपने अनुभव को साझा किया।अंतिम सत्र मेंश्री गणेश राय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोभी जौनपुर (उत्तरप्रदेश) में चल रहे रोवर्स रेंजर्स निपुण जांच शिविर का समापन मंगलवार को दीक्षा संस्कार के साथ हुआ। पांच दिनों तक चले शिविर में रोवर्स रेंजर्स को सेवा व साहसिक क्रियाओं का प्रशिक्षण दिया गया। रोवर्स रेंजर्स को सेवा कार्यों की शपथ भी दिलाई गई।
शिविर के पांचवें दिन समापन समारोह का शुभारंभ महाविद्यालय के मुख्य अतिथि व प्राचार्य डॉ. प्रवीण कुमार सिंह ने दीप प्रज्जवलित करके किया। उन्होंने रोवर्स रेंजर्स को संबोधित करते हुए कहा कि स्काउट गाइड का मुख्य उद्देश्य सेवा भाव है। बाढ़, भूकंप, आगजनी व प्राकृतिक आपदा में लोगों की मदद के लिए स्काउट-गाइड हमेशा तैयार रहते हैं। जाति-धर्म से परे हटकर पीड़ितों की सहायता करना प्रमुख उद्देश्य होता है। रोवर्स प्रभारी डॉ.डी.पी सिंह ने बताया स्काउट गाइड आंदोलन का उद्देश्य युवाओं में गुणवत्ता का विकास करना है न कि संख्यात्मक वृद्धि करना है। निरक्षक धीरेन्द्र कुमार सिंह ने रैली को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन, उद्योग विभाग, परिवारजनों एवं सर्विस रोवर्स को धन्यवाद ज्ञापित किया। रेंजर्स प्रभारी सरिता सिंह ने कहा स्काउट गाइड के माध्यम से छात्रों के जीवन को जीवंत बनाने में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है तथा उन्हें सम्मानित मंच भी प्रदान करता है। जीवन में स्वयं अनुशासित रहकर आगे बढ़ना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन स्काउट गाइड जिला डी.ओ.सी राकेश कुमार मिश्रा ने किया। जिसमें पांच दिवसीय रोवर्स रेंजर्स निपुण जांच शिविर में छात्रों को गांठ बंधन, टेंट निर्माण, खोज चिह्न, दिशा ज्ञान व बिना बर्तन के भोजन बनाने आदि के बारे में ज्ञानचन्द्र चौहान, अम्बुज सिंह, रोहित विश्वकर्मा,नीतेश प्रजापति द्वारा प्रशिक्षित किया गया।प्रतियोगिताओं में प्रथम,द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागीयों को सम्मानित किया गया। दल नायक विश्वास पाण्डेय व दीक्षा सिंह ने सभी टोलियों का नेतृत्व पूरी निष्ठा से किया। सहायक प्रशिक्षक विशाल दूबे, कुँवर अनुराग सिंह, चन्दन ,मुस्कान व गरिमा ने कर्त्तव्य रूप से किया जिसका डा. धर्मपाल सिंह ने सराहना कि व दिशा-निर्देश दिया। उत्तरप्रदेश भारत स्काउट और गाइड जिला स्तरीय प्रशिक्षकों ने विश्वविद्यालय डोभी जौनपुर के अनुशासन, शिक्षा,निष्णा व सहयोगीता और आपसी भाईचारे का उदाहरण रूपी संवेदना जताई। पूर्व अध्यापक बनवारी लाल वर्मा ने लोकगीत के प्रति अपने अनुभव को साझा किया।अंतिम सत्र विश्वास पाण्डेय द्वारा वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ दीक्षा दिया गया।सभी रोवर्स रेंजर्स को तिलक लगाकर देश व ईश्वर के प्रति समर्पित होते हुए पीड़ितों की सहायता में सदैव तत्पर रहने की शपथ दिलाई गई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।