सीएम विंडो पर आई शिकायतों और समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर किया जाये निपटारा–परिवार पहचान पत्र स्कीम को सुचारू रूप से कार्य रूप में किया जाये परिणत:- आयुक्त दीप्ती ऊमाशंकर।
February 8th, 2021 | Post by :- | 57 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा)
सीएम विंडो पर आई शिकायतों और समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर किया जाये निपटारा–परिवार पहचान पत्र स्कीम को सुचारू रूप से कार्य रूप में किया जाये परिणत:- आयुक्त दीप्ती ऊमाशंकर।सीएम विंडो पर आई शिकायतों और समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर किया जाये निपटारा–परिवार पहचान पत्र स्कीम को सुचारू रूप से कार्य रूप में किया जाये परिणत:- आयुक्त दीप्ती ऊमाशंकर।ग और कोर्डिनेशन विभाग की प्रिंसीपल सैके्रटरी एवं अम्बाला मंडल की कमीशनर दिप्ती उमाशंकर ने आज उपायुक्त कार्यालय में सरकार के विभिन्न प्रोजैक्ट/स्कीमों के क्रियान्वयन को लेकर समीक्षा बैठक की। बैठक में उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने जिला में चल रहे प्रोजैक्टस और स्कीमों के बारे में बिंदुवार जानकारी दी। प्रिंसीपल सैके्रटरी दिप्ती उमाशंकर ने सीएम विंडो के तहत शिकायतों के निपटान की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि सीएम विंडो पर प्राप्त होने वाली शिकायतों का निपटान तत्परता के साथ किया जाये।
आयुक्त ने परिवार पहचान पत्र के कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि परिवार पहचान पत्र हरियाणा सरकार की एक प्रमुख योजना है। परिवार पहचान पत्र परिवार को वशिष्ठ पहचान प्रदान करेगा । सभी परिवारों को अपना पहचान पत्र बनवाना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि भविष्य में सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ परिवार पहचान पत्र के माध्यम से जनता तक पहुंचाया जायेगा। उन्होंने कहा कि लोगों को इस बारे में जागरूक किया जाये कि वे स्वयं परिवार पहचान पत्र को बनवाएं और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें।
उन्होंने जिला में सीएम अनाउसमैंट से सम्बन्धित विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए उनकी प्रगति के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने 15 पैंडिग अनाउसमैंट पर जल्द से जल्द कार्य करने के सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर पैंडिग घोषणाओं को अमलीजामा पहनाएं। उन्होंने ई-गर्वनैंस, परिवार पहचान पत्र, अंतोदय सरल, मेरी फसल मेरा ब्यौरा, ई-खरीद, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राजस्व विभाग से सम्बन्धित, ई-गिरदावरी, वैब हालरिस, ड्रॉन आधारित सर्वे, सूचना प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य, आधार लिंकड, जन्म और मृत्यु रजिस्ट्रेशन, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से लाभार्थियों को मिलने वाली पैंशन और लाभ का वितरण, केन्द्र और राज्य सरकार के जिला में चल रहे विभिन्न प्रोजैक्ट की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को उन्होंने जरूरी दिशा-निर्देश दिये।
उन्होंने कोविड-19 वैकसीनेशन के कार्य की समीक्षा करते हुए कहा कि इस बारे में लोगों को जागरूक भी किया जाये। उन्होंने कहा कि शैडयूल के अनुसार हैल्थ केयर वर्कर, आंगनवाडी, पुलिस तथा अन्य लोगों को यह वैकसीन लगाई जाये। उन्होंने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए पुलिस अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिये। बैठक में उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने कहा कि अब तक लगभग सात हजार हैल्थ केयर वर्कर को कोविड-19 वैकसीनेशन लगाई जा चुकी है।
बैठक में एडीसी प्रीति, एसडीएम अम्बाला शहर सचिन गुप्ता, एसडीएम नारायणगढ डा0 वैशाली शर्मा, बराड़ा एसडीएम गिरीश कुमार, अम्बाला छावनी की एसडीएम ममता शर्मा, सीटीएम आंचल भास्कर, सीएम जीजीए उत्सव शाह, डीडीपीओ रेणू जैन, कृषि विभाग के उप निदेशक गिरीश नागपाल सहित जन स्वास्थ्य, सिंचाई, बिजली, पीडब्लयूडी, स्वास्थ्य आदि विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। फोटो नम्बर

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।