तेंदुए के आतंक से सहमे जालादेवी के ग्रामीण, तेंदुए ने जालादेवी में घासणी में चर रही चार बकरियों को बनाया अपना निवाला ,
February 5th, 2021 | Post by :- | 73 Views

स्वारघाट (मीना ठाकुर ) | जिला बिलासपुर के उपमंडल  स्वारघाट के तहत री पंचायत के जालादेवी (भुवाई) के ग्रामीण तेंदुए  के आतंक से सहमे हुए है |  बुधवार देर शाम बाघ ने जालादेवी गाँव के रामलाल पुत्र बसंता राम की तीन और कृष्ण दयाल पुत्र भगत राम की एक बकरी को निवाला बनाया है | रामलाल पुत्र बसंता राम व कृष्ण दयाल पुत्र भगत राम निवासी गाँव जालादेवी (भुवाई) तहसील श्री नयना देवी जी जिला बिलासपुर ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने बुधवार दोपहर बाद अपनी बकरियों को निजी घासणी में चरने के लिए छोड़ा था और रामलाल स्वयं बकरियों के साथ गया था लेकिन शाम के समय चार बकरियां गायब पाई गई | उन्होंने बकरियों की काफी तलाश की लेकिन बकरियों का कोई सुराग नहीं लग पाया है लेकिन गुरूवार सुबह कई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद घासणी में चारों बकरियां मरी हुई हालत में मिली | उन्होंने  वन विभाग को इसकी सूचना दी जिसके बाद वन विभाग के कर्मचारी मौके पर आए |

बता दें कि जालादेवी के ग्रामीण तेंदुए  के आतंक से सहमे हुए है | हाल ही में तेंदुए  ने तीन पालतू कुतों को निवाला बनाया है | तेंदुए  ने राम आसरा के दो पालतू कुतो जबकि राकेश कुमार के एक पालतू कुत्ते को निवाला बनाया है | जाला देवी के ग्रामीणों ने वन विभाग से गुहार लगाई है कि ग्रामीणों के पालतू पशुओं को  सुरक्षित रखने के लिए उक्त तेंदुए  को शीघ्र अति शीघ्र पकड़ा जाए |

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।